Create

वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज जीत के बावजूद खुश नहीं हैं पाकिस्तान के पूर्व कप्तान, बताई बड़ी वजह 

पाकिस्तान ने वनडे सीरीज के दोनों मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है (Pic - PCB)
पाकिस्तान ने वनडे सीरीज के दोनों मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है (Pic - PCB)

पाकिस्तान क्रिकेट टीम अपने घर पर वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज (PAK vs WI) खेलने में व्यस्त है। तीन मैचों की वनडे सीरीज के शुरुआती दोनों मैचों में पाकिस्तान ने जबरदस्त खेल दिखाया और कैरेबियाई टीम के खिलाफ लगातार 10वीं 50 ओवर फॉर्मेट की सीरीज जीती। दूसरे मैच में पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज को 120 रनों के अंतर से हराया और 2-0 की बढ़त हासिल की। पाक की सीरीज जीत के बावजूद टीम के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक़ ने बल्लेबाजी ऑर्डर में बड़ी कमी बताई है और उन्होंने इसे दूर करने का समाधान भी बताया है।

इस सीरीज के लिए शानदार फॉर्म में चल रहे शान मसूद को नहीं चुना गया है। मसूद को लेकर मुख्य चयनकर्ता ने कहा था कि वह उन्हें मध्यक्रम में खेलने के लिए कहेंगे क्योंकि टॉप ऑर्डर में जगह नहीं है। जबकि पाकिस्तान के मौजूदा कप्तान ने इसके विपरीत बयान दिया था और उन्होंने कहा था कि मसूद को नीचे बल्लेबाजी कराना सही नहीं होगा।

शान मसूद को मिले नंबर 5 पर मौका - इंजमाम उल हक़

इस मुद्दे पर अब इंजमाम उल हक़ ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। अपने यूट्यूब चैनल पर उन्होंने नंबर 5 पर खेल रहे मोहम्मद हैरिस और शान मसूद को लेकर कहा,

जब आप पाकिस्तान की बल्लेबाजी के बारे में बात करते हैं, तो मुझे लगता है कि नंबर 5 सबसे महत्वपूर्ण स्थान है और एक उचित बल्लेबाज को वहां खेलना चाहिए। हम अभी हैरिस को मौका दे रहे हैं, वह नया है लेकिन एक युवा खिलाड़ी के लिए यह मुश्किल है। हमें उसे आत्मविश्वास देना चाहिए लेकिन अभी, मुझे नहीं लगता कि आप उसे खिला सकते हैं।

इंज़माम ने आगे कहा,

मेरा मानना है कि यह समस्या टी20 और वनडे दोनों में बनी हुई है। शान मसूद शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, वह एक बुद्धिमान क्रिकेटर हैं। अगर हम उन्हें पांचवें नंबर पर आजमाते हैं तो उन्हें बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए। यहां तक कि खुशदिल शाह जैसे खिलाड़ियों और अन्य खिलाड़ियों को भी उनसे फायदा होगा। हमारे पास रिजवान नंबर 4 पर हैं और अगर शान 5 पर खेलते हैं, तो उनकी भूमिका निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ मैच फिनिश करने की होगी।

वहीँ उन्होंने कहा कि टी20 वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए हमें एक अनुभवी खिलाड़ी को मौका देना चाहिए। ऑस्ट्रेलिया में आपको ऐसी पिचें नहीं मिलेंगी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment