Create

IPL 2019: 3 बदलाव जिनसे कोलकाता नाइट राइडर्स जीत की राह दोबारा हासिल कर सकती है

Shubhman Gill
Shubhman Gill

कोलकाता नाइट राइडर्स ने आईपीएल 2019 की शुरुआत बेहतरीन तरीके से की थी। इस टीम ने टूर्नामेंट के शुरुआती चार मैचों में से 3 जीत हासिल करके दिखा दिया था कि उसके लिए प्लेऑफ की राह मुश्किल नहीं है और चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए कोलकाता की टीम कड़ी टक्कर पैदा करेगी। कोलकाता की इस धुंआधार परफॉर्मेंस का एकमात्र श्रेय आंद्रे रसल को जाता है।

हालांकि जो टीम आईपीएल 2019 की शुरुआत में अंक तालिका में दूसरे नंबर पर नजर आ रही थी, अब वह बदकिस्मती से छठे नंबर पर नजर आ रही है। क्योंकि यह टीम अब तक 10 मैच खेल चुकी है, और शुरुआती 3 जीत के बाद बाकी के मैचों में इसे एक जीत ही मिली है। दस मैचों में 4 जीत के साथ अब यह टीम छठे नंबर पर पहुंच चुकी है।

ऐसे में अब कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए प्लेऑफ में पहुंचने की राह काफी मुश्किल नजर आ रही है। हालांकि अभी भी कोलकाता की टीम कुछ जरूरी बदलाव के जरिए आगे के मैचों में जीत हासिल कर पुरानी राह पर वापस आ सकती है और शायद उसे प्लेऑफ में भी खेलने का मौका मिल जाए। आइए जानते हैं, क्या हैं वो तीन बड़े बदलाव:

1. क्रिस लिन के साथ शुभमान गिल की ओपनिंग:

कोलकाता की ओर से अगर शुभमान गिल को क्रिस लिन के साथ ओपनिंग करने के लिए भेजा जाता है, तो शायद यह टीम अपनी खोई हुई राह को हासिल कर सकती है। अभी क्रिस लिन के साथ सुनील नारायण को यह जिम्मेदारी दी गई है लेकिन यह बात सबके सामने है कि नारायण पॉवरप्ले में तो कुछ बड़े शॉट लगा लेते हैं लेकिन एक लंबी पारी को अंजाम देने में हमेशा विफल रहे हैं।

यही नहीं, सुनील नारायण 2019 के आईपीएल में कुछ खास प्रदर्शन भी नहीं कर सके हैं। ऐसे में अगर क्रिस लिन के साथ शुभमान गिल को ओपनिंग करने के लिए भेजा जाता है, तो शायद कोलकाता नाइट राइडर्स अन्य टीमों का खेल बिगाड़ सकती है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

2. दिनेश कार्तिक और आंद्रे रसल का ऊपरी क्रम में बैटिंग करना:

Andre Russel
Andre Russel

कोलकाता नाइट राइडर्स की लगातार हार की सबसे बड़ी वजह यह भी रही है कि इसके स्टार बल्लेबाज आंद्रे रसेल और दिनेश कार्तिक ने ज्यादातर मैचों में नंबर 5 और 6 पर बल्लेबाजी की है। जिसकी वजह से कई बार ऐसा माहौल खड़ा हुआ है कि शुरुआती बल्लेबाज ज्यादा रन नहीं बना सके और अंत में उनके आउट होने के बाद इन बल्लेबाजों को ज्यादा रन बनाने का मौका नहीं मिला।

इस कारण के चलते कोलकाता की टीम अपने ज्यादातर मैचों में बड़े स्कोर नहीं खड़े कर सकी है। इसका परिणाम यह हुआ कि विरोधी टीम आसानी से कोलकाता की ओर से दिए गए लक्ष्य को आसानी से पार कर लेती है और दिनेश कार्तिक की टीम को हार का सामना करना पड़ा। इसका समाधान केवल यही है कि नंबर 3 पर नीतीश राणा के अलावा नंबर 4 पर आंद्रे रसल या फिर दिनेश कार्तिक को खुद कमान संभालनी होगी। तभी यह टीम जीत की राह पर आगे बढ़ सकेगी।

3. रिंकू सिंह की जगह प्रसिद्ध कृष्णा और पियूष चावला की जगह कुलदीप यादव को लाना

Kuldeep Yadav
Kuldeep Yadav

कोलकाता नाइट राइडर्स आईपीएल के सभी सीजन में बल्लेबाजी की अपेक्षा गेंदबाजी के जरिए कमाल करती आई है, और यही इस टीम की ताकत रही है। हालांकि यह इस टीम का दुर्भाग्य ही है कि अपने गेंदबाजों का सही इस्तेमाल करने में दिनेश कार्तिक ने भूल कर दी है। कोलकाता के पेसर कुछ खास कमाल नहीं दिखा सके हैं।

ऐसे में उसे अपनी स्पिन ताकत को अब सामने लाना होगा। दिनेश कार्तिक को चाइनामैन यानी कुलदीप यादव पर भरोसा करना होगा। कुलदीप यादव पीयूष चावला के बदले एक बेहतरीन विकल्प हो सकते हैं। वहीं दूसरे छोर पर रिंकू सिंह की जगह प्रसिद्ध कृष्णा का चयन भी गलत फैसला नहीं होगा। इन दोनों गेंदबाजों के रिप्लेसमेंट से कोलकाता की जीत को रफ्तार मिल सकती है। बताते चलें कि पीयूष चावला ने इस सीजन में 10 मैचों में केवल 6 विकेट ही हासिल किए हैं।

Quick Links

Edited by Pritam Sharma
Be the first one to comment