Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

आईपीएल 2019: दिल्ली कैपिटल्स के 3 ऐसे खिलाड़ी जिन्हें केकेआर अपनी टीम में शामिल करना चाहती होगी

ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 20 Dec 2019, 22:59 IST

Enter caption

ईपीएल 2019 अब समापन की ओर बढ़ चला है क्योंकि प्लेऑफ के नॉकआउट मुकाबले प्रगति पर हैं। मुम्बई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच हुए पहले क्वालीफायर मुकाबले में जीत हासिल करके मुंबई इंडियंस फाइनल में प्रवेश कर चुकी है, यह कारनामा उन्होंने 5वीं बार किया है। जबकि दिल्ली कैपिटल्स और सनराइज़र्स हैदराबाद के बीच हुए एलिमिनेटर मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स टीम ने जीत हासिल करके दूसरे क्वालीफायर में जगह बना ली है जहां उसे चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मुकाबला खेलना है।

आईपीएल इतिहास में चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस टीम हमेशा से ही मजबूत टीम रहीं हैं, जबकि इनके बाद जो सबसे मजबूत टीम है वह है - कोलकाता नाइटराइडर्स। कोलकाता नाइटराइडर्स दो बार आईपीएल का खिताब जीत चुकी है जबकि 6 बार प्लेऑफ में पहुंच चुकी है। लेकिन इस साल कोलकाता टीम का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है। इस टीम को इस सीजन के बीच में लगातार 6 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है।

शिवम मावी और कमलेश नागरकोटी के चोटिल हो जाने के बाद इस सीजन कोलकाता नाइटराइडर्स की गेंदबाजी बेहद खराब दिखी। न ही उनके तेज गेंदबाज अच्छे फॉर्म में दिखे और न ही इनके स्पिन गेंदबाज अच्छे फॉर्म में दिखे। इसीलिए आज हम आपको दिल्ली कैपिटल्स टीम के 3 ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे कोलकाता नाइटराइडर्स अपने टीम में जरूर शामिल करना चाहती होगी।

#3. कीमो पॉल:

Enter caption

कोलकाता की टीम बीच के ओवरों में गेंदबाजी करने के लिए पूरी तरह से कुलदीप यादव, सुनील नारेन और पियूष चावला पर निर्भर थी। सभी स्पिनर इस सीजन फ्लॉप साबित हुए। टीम के कोच जैक कैलिस ने इसका कारण बताया कि इस सीजन इडेन गार्डन्स की पिच स्पिनरों के लिए मददगार नहीं थी। कैरिबियाई तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर कीमो पॉल ने इस सीजन दिल्ली कैपिटल्स की ओर से अच्छा प्रदर्शन किया है।

कीमो पॉल ने इस सीजन 6 मैचों में खेलते हुए 6 विकेट चटकाए हैं जबकि उनकी इकोनॉमी 7.5 रन प्रति ओवर की रही है। कीमो पॉल कोलकाता की टीम की खराब गेंदबाजी पक्ष को मजबूती दिला सकते थे।

1 / 3 NEXT
Published 09 May 2019, 19:46 IST
Advertisement
Fetching more content...