आईपीएल 2019: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के 3 प्रमुख विदेशी खिलाड़ी

Enter caption

इंडियन प्रीमियर लीग का 12वां सीज़न 23 मार्च से शुरू हो रहा है और खेल प्रेमियों में उत्साह चरम पर हैं। टूर्नामेंट का पहला मैच चेन्नई में गत विजेता चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच होगा।

आरसीबी 2009, 2011 और 2016 में उपविजेता रहा, लेकिन ट्रॉफी उठाने में कभी कामयाब नहीं रहा। पिछले सीज़न में, वे छह जीत और आठ हार के साथ छठे स्थान पर रहे। खिताब न जीतने के बावजूद, फ्रैंचाइज़ी के खिलाड़ियों ने तीन बार ऑरेंज कैप और दो सबसे मूल्यवान खिलाड़ी खिताब जीते हैं।

आरसीबी के नाम प्रतियोगिता के इतिहास में उच्चतम और निम्नतम दोनों स्कोर के रिकॉर्ड हैं। उन्होंने 2013 में पुणे वारियर्स के खिलाफ सबसे अधिक 263 बनाये, जबकि 2017 में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ सबसे कम 49 रन बनाए।

आरसीबी को हमेशा से अपनी विस्फोटक बैटिंग लाइन-अप के लिए जाना जाता है। हालांकि, वह हमेशा से गेंदबाजी विभाग में कमजोर रहे हैं। इस साल टीम अच्छी तरह से संतुलित दिख रही है और वे विराट कोहली के नेतृत्व में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की उम्मीद करेंगे।

इस बार आरसीबी को विशेष कर अपने विदेशी खिलाड़ियों से ज्यादा उम्मीदें होंगी। आइए आईपीएल के इस सीज़न में आरसीबी के 3 प्रमुख विदेशी खिलाड़ियों पर एक नजर डालते हैं।


# 3 नाथन कूल्टर नाइल

नाथन कूल्टर नाइल

31 वर्षीय नाथन कूल्टर नाइल इस समय ऑस्ट्रेलिया की एकदिवसीय टीम के प्रमुख सदस्य हैं। उन्होंने इस साल के बिग बैश लीग में पर्थ स्कॉर्चर्स खेलते हुए 13 मैचों में 27.10 की औसत से 14 विकेट लिए और उनकी इकॉनमी रेट 7.45 की रही।

वह अभी हाल ही आयी ऑस्ट्रेलिया की टीम में थे। टी 20 श्रृंखला में, उन्होंने दो मैचों में चार विकेट लिए। उन्होंने एकदिवसीय मैचों की अच्छा प्रदर्शन किया और उनमें 3 विकेट लिए। कुल मिलाकर, उन्होंने 24 मैचों में 41 एकदिवसीय विकेट और 28 टी 20 मैचों में 34 विकेट लिए हैं।

आईपीएल में, कोल्टर-नाइल ने 2013 में मुंबई इंडियंस, 2014 से 2016 तक दिल्ली डेयरडेविल्स, 2017 में कोलकाता नाइट राइडर्स का प्रतिनिधित्व किया और पिछले साल आरसीबी में शामिल हुए, लेकिन चोट के कारण खेल नही पाए। 2017 में उन्होंने केकेआर के लिए आठ मैचों में 15 विकेट लिए। आईपीएल में उनके नाम 26 मैचों से कुल 36 विकेट हैं। उन्हें इस साल आरसीबी के लिए गेंदबाजी आक्रमण का नेतृत्व करने की उम्मीद है और विराट कोहली को उम्मीद होगी कि दाएं हाथ का यह तेज गेंदबाज गेंदबाजी विभाग में उनकी समस्याओं को खत्म कर सके।

शिमरोन हिटमायर

शिमरोन हेटमेयर

22 वर्षीय शिमरोन हिटमायर इस समय विश्व क्रिकेट में सबसे रोमांचक बल्लेबाजों में से एक हैं। कैरिबियन प्रीमियर लीग में शतक लगाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज का रिकॉर्ड उनके पास है। उन्होंने पिछले साल यह उपलब्धि हासिल की और उस सीज़न में 440 रन बनाकर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे स्थान पर रहे। हिटमायर वेस्ट इंडीज अंडर -19 टीम के कप्तान भी थे, जिसने 2016 में विश्व कप जीता था। उन्होंने 2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना एकदिवसीय पदार्पण किया और 25 मैचों में 40.86 का औसत रहा। उनका स्ट्राइक रेट 110.30 का है और उन्होंने छोटे अंतरराष्ट्रीय करियर में 4 शतक और दो अर्द्धशतक बनाए हैं।

शतक बनाने के बावजूद, हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय और टी 20 सीरीज़ उनके लिए अच्छी नही रही। उन्होंने तीन टी 20 में से केवल 32 रन और चार एकदिवसीय मैचों में केवल 141 रन बनाए।

आईपीएल निलामी में उनका आधार मूल्य 50 लाख था और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को उनके ऊपर 4.2 करोड़ खर्च करने पड़े।

# 1 मार्कस स्टोइनिस

मार्कस स्टोइनिस

मार्कस स्टोइनिस को किंग्स इलेवन पंजाब से इस वर्ष रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर ने ट्रेड किया। वह एक ऑलराउंडर हैं जो मध्य क्रम में बल्लेबाजी कर सकते हैं और मध्यम गति की गेंदबाजी कर सकते हैं। यही कारण है कि सबसे छोटे प्रारूप में उन्हें एक बेहद उपयोगी खिलाड़ी माना जाता है। 28 एकदिवसीय मैचों में 43.04 का औसत उनकी बल्लेबाज़ी क्षमता दर्शाता है।

स्टोइनिस ऑस्ट्रेलिया के बिग बैश लीग के पिछले सीज़न में मेलबर्न स्टार्स के लिए खेले थे। उन्होंने 12 पारियों में 54.89 की औसत से 494 रन बनाए और 133.51 की स्ट्राइक रेट से ये रन बनाये। साथ ही उन्होंने कुल 14 विकेट भी लिए।

हालांकि, उनके आईपीएल के आंकड़े इतने प्रभावशाली नहीं रहे हैं। 19 मैचों में उन्होंने केवल 262 रन बनाए और सिर्फ 13 विकेट लिए हैं। भारत के खिलाफ हाल ही में समाप्त हुए टी 20 मैचों में भी उनका प्रदर्शन अच्छा नही रहा और अपेक्षाओं पर खरा नही उतर सके, लेकिन वह एकदिवसीय मैचों की सीरीज़ में 140 रन बनाकर और चार मैचों में दो विकेट लेकर उन्होंने अपनी क्षमता दिखाई।

स्टोइनिस इस साल आरसीबी के लिए महत्वपूर्ण ऑलराउंडर होंगे और उनके कंधों पर एक बड़ी जिम्मेदारी होगी। यह देखना दिलचस्प होगा कि वह लीग में अपने रिकॉर्ड को सुधार पाते हैं या नहीं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता