Create

आईपीएल 2019: मुंबई इंडियंस के खिलाफ चेन्नई सुपर किंग्स की शर्मनाक हार के 3 मुख्य कारण 

Enter caption

गत विजेता चेन्नई सुपर किंग्स को आईपीएल 2019 के 44वें मुकाबले में मुंबई इंडियंस के हाथों 46 रनों से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। इस सीजन में उनकी यह चौथी हार है, लेकिन अभी भी वो अंक तालिका में पहले स्थान पर ही मौजूद हैं। मुंबई की टीम अब 14 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर आ गए हैं और प्ले ऑफ के काफी करीब आ गए हैं।

टॉस हारने के बाद मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 155-4 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम 109 रन बनाकर ढेर हो गई। चेन्नई में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ यह मुंबई इ़ंडियंस की लगातार चौथी जीत है। आपको बता दें कि इस मैच में महेद्र सिंह धोनी नहीं खेले थे।

आइए नजर डालते हैं किन वजहों से चेन्नई सुपर किंग्स को हार का सामना करना पड़ा:

#) रोहित शर्मा की शानदार अर्धशतकीय पारी

Enter caption

मुंबई इंडियंस की पहले बल्लेबाजी करते हुए शुरुआत बेहद खराब रही थी और सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक की विकेट तीसरे ही ओवर में गंवा दिया था। हालांकि यहां से रोहित शर्मा ने कप्तानी पारी खेली और टीम में मुश्किल स्थिति से निकाला।

रोहित शर्मा ने 48 गेंदों में 6 चौके और 3 छक्कों की मदद से 67 रन बनाए और इस सीजन का पहला अर्धशतक लगाया। रोहित शर्मा 17वें ओवर में 122 के स्कोर पर आउट हुए थे। इसके बाद ही मुंबई 155 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा पाए, जिसने अंत में बड़ा अंतर पैदा किया।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#) चेन्नई सुपर किंग्स की खराब शुरुआत

Enter caption

156 रनों का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स की शुरुआत बेहद खराब रही और टीम को लय मिली ही नहीं। पावरप्ले में ही सीएसके ने शेन वॉटसन (8), सुरेश रैना (2) और अंबाती रायडू (0) के विकेट गंवा दिए थे। यहां से टीम के लिए वापसी करना काफी मुश्किल हो गया।

केदार जाधव (6) और ध्रुव शौरी (5) भी ज्यादा योगदान नहीं दिया। हालांकि मुरली विजय (38) ने थोड़ा संघर्ष जरूर किया, जिसके कारण ही टीम हार के अंतर को कम कर पाई। विजय के अलावा मिचेल सैंटनर (22) और ड्वेन ब्रावो (20) ही दहाई के आंकड़े को पार कर पाए। चेन्नई को आने वाले मैचों में अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान देना होगा।

इसमें मुंबई के गेंदबाज खासकर लसिथ मलिंगा (4/37) और क्रुणाल पांड्या (2/7) की भी तारीफ होनी चाहिए, जिन्होंने महत्वपूर्ण विकेट चटकाए।

#) महेंद्र सिंह धोनी का नहीं खेलना

Enter caption

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आज का मुकाबला नहीं खेलना और टीम को निश्चित ही एक कप्तान, विकेटकीपर और बल्लेबाज के तौर पर उनकी कमी काफी खली। सबसे पहले जब पावरप्ले में ही हरभजन सिंह की गेंद पर एविन लुईस के बल्ले का किनारा लेते हुए गेंद कीपिंग कर रहे अंबाती रायडू के पास गई।

हालांकि रायडू या फिर गेंदबाज ने अपील ही नहीं की, जिसका फायदा लुईस ने उठाया और 32 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली। धोनी अगर मौजूद होते, तो उनसे ऐसी गलती की उम्मीद नहीं की जा सकती। इसके अलावा जिस तरह सीएसके को शुरुआती झटके लगे, धोनी होते तो उनके पास माद्दा है कि वो एक छोर संभाल सकते हैं और अपने साथ दूसरे खिलाड़ियों को भी खिला सकते हैं। उनके नहीं रहने से सीएसके की टीम काफी कमजोर नजर आती है और इस सीजन में ऐसा दूसरी बार नजर आया।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment