Create

आईपीएल 2019: दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ कोलकाता नाइटराइडर्स की हार के 3 कारण

Enter caption
Naveen Sharma

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर दिल्ली कैपिटल्स ने सुपर ओवर में मेहमान टीम कोलकाता नाइटराइडर्स को हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए केकेआर ने 185 रन बनाए और जवाब में दिल्ली की टीम भी इस स्कोर पर ही रुक गई। सुपर ओवर में मिले 11 रन के जवाब में कोलकाता की टीम 7 रन बना पाई। मैच में केकेआर के हारने की वजह पर यहां चर्चा की गई है।

कोलकाता नाइटराइडर्स को शुरुआती झटके लगना

Enter caption

केकेआर की बल्लेबाजी के शुरुआत में ही दिल्ली कैपिटल्स की गेंदबाजी यूनिट ने दमखम दिखाना शुरू कर दिया। पहला विकेट 16 रन के कुल स्कोर पर गिरने के बाद कोलकाता के बल्लेबाज आउट होना शुरू हो गए। एक के बाद एक कर पवेलियन लौटते हुए केकेआर की आधी टीम वापस मैदान से बाहर पहुंच गई। इस समय कुल स्कोर महज 61 रन था। रसेल और कार्तिक की बेहतरीन बल्लेबाजी नहीं होती तो यह टीम चुनौतीपूर्ण स्कोर से पहले निपट जाती। शुरुआती विकेट गिरने से वे 200 या उससे अधिक का स्कोर बनाने में नाकाम रहे और हार के कारणों में यह प्रमुख रहा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

दिल्ली के लिए पृथ्वी शॉ की पारी

Enter caption

लक्ष्य का पीछा करते हुए दिल्ली कैपिटल्स के लिए पृथ्वी शॉ ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की। उन्होंने अहज 55 गेंदों पर 99 रन की पारी खेली। यही एक कारण रहा कि टीम केकेआर से मिले लक्ष्य के करीब पहुंच पाई। शॉ की आतिशी पारी काफी अहम रही और ऐसा नहीं होता तो शायद मैच टाई नहीं होता और सुपर ओवर के बिना केकेआर को जीत मिलती।

सुपर ओवर में कगिसो रबाडा का ओवर

Enter caption

दिल्ली ने पहले खेलते हुए सुपर ओवर में 10 रन बनाए। जवाब में खेलते हुए कोलकाता के लिए आंद्रे रसेल ने पहली गेंद पर चौका जड़ते हुए इरादे दर्शाए। इसके बाद रबाडा ने दूसरी गेंद खाली निकाली और अगली गेंद पर रसेल को आउट कर दिल्ली की जीत का मार्ग प्रशस्त कर दिया। उन्होंने कुल 7 रन दिए और कोलकाता को 11 रन के आंकड़े से दूर रखा।

Edited by Naveen Sharma

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...