Create

आईपीएल 2019: 3 अनसोल्ड खिलाड़ी जो राजस्थान रॉयल्स को प्लेऑफ तक पहुंचा सकते थे

Enter caption

शुरुआती सीजन में खिताब जीतने के बाद राजस्थान रॉयल्स इंडियन प्रीमियर लीग की असफल टीमों में से एक बन चुकी है। अजिंक्य रहाणे, स्टीव स्मिथ, बेन स्टोक्स जैसे सितारों से सजी यह टीम इस साल प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाई और अंक तालिका में 7वें स्थान पर भी रही।

अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में राजस्थान रॉयल्स ने 8 में से सिर्फ 2 मैच जीते थे जबकि अंतिम स्टीव स्मिथ के कप्तानी संभालने के बाद 3 मैचों में जीत हासिल हुई जबकि एक मैच 'नो रिजल्ट' रहा।

इस टीम की बल्लेबाजी पूरी तरह से अजिंक्य रहाणे, स्टीव स्मिथ और संजू सैमसन के ऊपर आधारित थी जबकि गेंदबाजी जोफ्रा आर्चर और श्रेयस गोपाल पर आधारित दिख रही थी। जबकि असम के युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी रियान पराग ने भी टीम के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ मैच 'नो रिजल्ट' होने के कारण उनके प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों पर भी पानी फिर गया था।

इस टीम ने कुछ खिलाड़ियों पर बहुत अधिक पैसे खर्च कर डाले थे। जबकि अन्य खिलाड़ियों पर कम पैसे खर्च किए थे। आज हम आपको 3 ऐसे अनसोल्ड खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो यदि राजस्थान रॉयल्स टीम का हिस्सा होते तो उसे प्लेऑफ में पहुंचा सकते थे।

#3. परवेज रसूल:

Enter caption

गेंदबाजी ऑलराउंडर परवेज़ रसूल घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं। अगर वह राजस्थान रॉयल्स टीम का हिस्सा होते तो जबरदस्त प्रदर्शन कर सकते थे। परवेज रसूल ही वह पहले खिलाड़ी हैं जिन्होंने जम्मू कश्मीर की ओर से आईपीएल में हिस्सा लिया था। रसूल भारत के शीर्ष 10 स्पिनरों में रह चुके हैं। उन्होंने इस साल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेलते हुए पांच मैचों में 5 विकेट चटकाए थे जबकि उनकी इकोनॉमी 6.75 की रही थी। परवेज़ रसूल की जोड़ी श्रेयस गोपाल के साथ अच्छी बनती। जहां एक और परवेज रसूल किफायती गेंदबाजी करते वहीं श्रेयस गोपाल विकेट चटकाते।

परवेज़ रसूल ने 51 घरेलू टी20 मैचों में हिस्सा लिया है जिसमें उन्होंने 30.53 की औसत से 41 विकेट चटकाए हैं जबकि उनकी इकोनॉमी 6.8 की रही है और 41 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 625 रन बनाए हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#ईशान पोरेल:

Enter caption

बंगाल के तेज गेंदबाज ईशान पोरेल ने अंडर-19 वर्ल्ड कप 2018 में शानदार गेंदबाजी प्रदर्शन किया था। चौंकाने वाली बात यह है कि वे आईपीएल में लगातार 2 वर्षों से अनसोल्ड रह रहे हैं। उन्होंने इस साल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में बंगाल का प्रतिनिधित्व करते हुए सात मैचों में 18.6 की औसत से 9 विकेट चटकाए थे जबकि उनकी इकोनॉमी 6.5 की थी। उन्होंने इसी साल बंगाल के लिए घरेलू क्रिकेट में डेब्यू किया था।

राजस्थान रॉयल्स की ओर से वरुण आरोन ने तो शानदार गेंदबाजी की लेकिन जयदेव उनादकट और धवल कुलकर्णी मँहगे साबित हुए थे। किसान पायल अगर राजस्थान रॉयल्स टीम का हिस्सा होते तो तेज गेंदबाजी विभाग को मजबूती प्रदान कर सकते थे। ईशान पोरेल दूसरी छोर से अच्छी गेंदबाजी करके अंग्रेजी गेंदबाज जोफ्रा आर्चर का भार भी कम कर सकते थे। इसके अलावा ईशान पोरेल बीच के ओवरों में गेंदबाजी करने के लिए अच्छे खरीद हो सकते थे लेकिन राजस्थान रॉयल्स ने ऐसा नहीं किया।

#1. रिली रोसो:

Enter caption

रिली रोसो पिछले कुछ महीने से शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। उन्होंने बांग्लादेश प्रीमियर लीग में भी शानदार प्रदर्शन किया था। रिली रोसो ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग में खेलते हुए 59.75 के औसत से 558 रन बनाए थे। रिली रोसो इस बीपीएल सीजन में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज थे।

राजस्थान रॉयल्स टीम के मध्यक्रम में विदेशी खिलाड़ी बेन स्टोक्स एवं एश्टन टर्नर थे जो फ्लॉप साबित हुए थे। इनकी जगह पर रिली रोसो अच्छे विकल्प हो सकते थे। इसके अलावा रिली रोसो सलामी बल्लेबाज के रूप में लियाम लिविंगस्टोन का भी विकल्प हो सकते थे। लेकिन राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें ऑक्शन के समय नजरअंदाज करके बहुत बड़ी गलती की।

रिली रोसो अब तक 159 टी20 मैच खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 29.07 की औसत से 4071 रन बनाए हैं जबकि उनका स्ट्राइक रेट 133 के लगभग का है। उनके इस टी20 रिकॉर्ड को देखते हुए लगता है कि वे राजस्थान रॉयल्स टीम के लिए महत्वपूर्ण खरीद हो सकते थे।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment