Create
Notifications

आईपीएल 2019: 6 खिलाड़ी जिन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर अगले सीजन रिलीज कर सकती है

Enter caption
Neetish Kumar Mishra

विराट कोहली, एबी डीविलियर्स, पार्थिव पटेल और युजवेंद्र चहल जैसे सितारों से सजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम लगातार 3 सालों से प्लेऑफ से बाहर हो रही है। इस टीम ने पिछले 3 वर्षों में कई नए नए खिलाड़ियों को आजमाया है लेकिन काफी खिलाड़ी उनके उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाए हैं। इन 3 सालों में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने कोरी एंडरसन, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, टिम साउदी जैसे दिग्गज विदेशी खिलाड़ियों को भी आजमाया है लेकिन सभी लगभग फ्लॉप ही साबित हुए हैं।

साल 2019 के सीजन के ऑक्शन में भी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने कई युवा खिलाड़ियों को टीम में मौका दिया लेकिन नवदीप सैनी के अलावा कोई भी खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका। इसी वजह से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम 7वें नंबर के साथ अपना सीजन समाप्त कर रही है लेकिन अगर किंग्स इलेवन पंजाब अपना अंतिम लीग मैच जीत जाती है तो फिर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम 8वें स्थान पर पहुंच जाएगी। अगर ऐसा हुआ तो ऐसा 11 सालों बाद होगा जब रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर 8वें स्थान पर रहकर अपना सीजन समाप्त करेगी। इससे पहले साल 2008 में आरसीबी 8वें स्थान पर रह चुकी है।

आज हम आपको ऐसे 6 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनको रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर अगले सीजन रिलीज कर सकती है।

#6. अक्षदीप नाथ:

Enter caption

अक्षदीप नाथ को बैकअप विकेटकीपर के रूप में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 3.6 करोड़ रुपये में खरीदा था। उन्हें इस सीजन टीम की ओर से 8 मैचों में खेलने का मौका मिला था। उन्हें चौथे स्थान पर भी कई बार बल्लेबाजी करने का मौका मिला लेकिन वे इस मौके का फायदा नहीं उठा पाए। उन्होंने 8 मैचों में 12.20 की औसत से मात्र 61 रन बनाए हैं। जिस कारण रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी उन्हें अगले सीजन टीम से बाहर कर सकती है।

#5. शिवम दूबे:

Enter caption

लंबे-लंबे छक्के लगाने के लिए मशहूर ऑलराउंडर शिवम दूबे को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 5 करोड़ की बड़ी कीमत देकर खरीदा था। लेकिन वे फ्लॉप साबित हुए। शिवम दूबे इस सीजन 4 मैचों में मात्र 40 रन ही बना सके जबकि गेंदबाजी करते हुए वे एक भी सफलता प्राप्त नहीं कर सके। इसी कारण से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी उन्हें अगले सीजन रिलीज कर सकती है।

#4. कॉलिन डी ग्रैंडहोम:

Enter caption

कीवी खिलाड़ी कॉलिन डी ग्रैंडहोम एक बेहतर ऑलराउंडर के रूप में अंतरराष्ट्रीय मैचों में प्रसिद्ध हैं लेकिन इस आईपीएल में उन्होंने बेहद खराब प्रदर्शन किया। उन्होंने इस सीजन 4 मैचों में बल्लेबाजी करते हुए 46 रन बनाए और गेंदबाजी करते हुए एक भी विकेट नहीं हासिल कर सके जबकि उनकी गेंदबाजी इकोनॉमी 11 रन प्रति ओवर के करीब रही। इसी खराब प्रदर्शन के कारण रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर उन्हें अगले सीजन रिलीज कर सकती है।

#3. पवन नेगी:

Enter caption

ऑलराउंडर पवन नेगी को उनके पिछले प्रदर्शन को देखते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने इस सीजन रिटेन किया था। लेकिन वे इस सीजन ऐसा कुछ कमाल नहीं कर पाए जैसा वे पिछले सालों में करते थे। उन्हें 2016 में दिल्ली डेयरडेविल्स ( अब दिल्ली कैपिटल्स) ने 8.5 करोड़ की बड़ी कीमत पर खरीदा था। उन्होंने उसी साल टीम इंडिया के लिए भी पदार्पण किया था। पवन नेगी ने इस सीजन कुल 7 मैचों में हिस्सा लिया जिसमें वे मात्र 9 रन बना सके और 3 विकेट ही हासिल कर सके जबकि इकोनॉमी 9 के ऊपर रही। इसी खराब प्रदर्शन की बदौलत रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम उन्हें अगले सीजन रिलीज कर सकती है।

#2. टिम साउदी:

Enter caption

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी का पिछला सीजन तो अच्छा गुजरा था लेकिन वे इस सीजन अच्छा प्रदर्शन करने में नाकामयाब रहे। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए सबसे बड़ी समस्या तब आई जब नाथन कूल्टर नाइल चोटिल होकर आईपीएल से बाहर हो गए। जिसके बाद टिम साउदी ही टीम में मुख्य विकल्प के रुप में थे। लेकिन उन्होंने इस सीजन अपने टीम को निराश किया। वे मात्र 3 मैचों में ही हिस्सा ले सके जिसमें उन्होंने सिर्फ एक सफलता प्राप्त की। इस दौरान उनकी इकोनॉमी 13.11 की रही।

#1. उमेश यादव:

Enter caption

भारतीय टीम के शानदार तेज गेंदबाजों में शुमार उमेश यादव का यह सीजन अच्छा नहीं गुजरा है। उन्होंने कई बार डेथ ओवरों में खराब गेंदबाजी करके टीम को हार का मुंह दिखाया है। उमेश यादव का पिछला सीजन अच्छा बीता था, जिसमें उन्होंने पिछले सीजन 18 विकेट चटकाए थे लेकिन इस सीजन उन्होंने 11 मैचों में सिर्फ 8 विकेट चटकाए हैं जबकि उनकी इकोनॉमी 9.8 रन प्रति ओवर की रही है। इस खराब प्रदर्शन को देखते हुए ऐसा लग रहा है कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी उन्हें अगले सीजन टीम से बाहर कर सकती है।

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...