Create
Notifications

आईपीएल 2019: हर टीम से बाहर चल रहे ऐसे खिलाड़ी जो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की प्लेइंग XI में जगह बना सकते हैं  

Enter caption
akhilesh.tiwari19
visit

आईपीएल दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट टूर्नामेंट में से एक माना जाता है। इस खिताब को जीतने के लिए हर साल आठ सबसे बेहतरीन टीमें आपस में भिड़ती हैं और कोई एक टीम खिताब को अपने नाम कर लेती है। अभी तक की सबसे दमदार टीम की बात की जाए तो, इसमें चेन्नई सुपर किंग्स का नाम सबसे ऊपर आता है और उसके बाद मुंबई इंडियंस का। वहीं इनमें से एक ऐसी टीम भी है, जिसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली समेत दुनिया के कई दिग्गज क्रिकेट शामिल हैं लेकिन इसके बावजूद वह टीम आज तक एक भी खिताब अपने नाम नहीं कर पाई।

हम बात कर रहे हैं रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की, जो कि आईपीएल के 11 साल के इतिहास में एक भी खिताब अपने नाम नहीं कर पाई है। हालांक यह टीम तीन बार फाइनल में पहुंच चुकी है। वहीं 2019 के आईपीएल में भी आरसीबी कुछ खास नहीं कर पाई है। आरसीबी ने अभी तक 9 मैच खेले हैं और उसमें से 2 मैच में ही जीत हासिल की है।

टूर्नामेंट में अगर विराट कोहली की बैटिंग और कप्तानी के बारे में बात करें, तो उनमें वह बिल्कुल फिट बैठते हैं लेकिन अन्य क्षेत्रों में वह विफल साबित होते हैं। वहीं आरसीबी के अलावा अन्य सात टीमों ने टूर्नामेंट में सम्मानजनक प्रदर्शन किया है। आज हम आपको उन्हीं सात टीमों के उन खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अपनी टीम के एकादश का हिस्सा नहीं हैं और शायद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम में परफेक्ट बैठ जाएं।

मुरली विजय (चेन्नई सुपर किंग्स)

EM

चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल की सबसे दमदार टीम में शुमार होती है। इस टीम के पास ओपनर के रूप में विजय मौजूद हैं, हालांकि चेन्नई में उनके अलावा भी शेन वॉटसन, अंबाती रायडू और फाफ डू प्लेसी जैसे बेहतरीन खिलाड़ी भी शामिल हैं, जिनकी वजह से शायद मुरली विजय की प्रतिभा इस टीम में छिप रही है और उन्हें काफी समय से ओपनिंग का मौका भी नहीं मिल पाया है। मुरली विजय अपने आईपीएल के इतिहास में 2523 रन बना चुके हैं। ऐसे में अगर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर मुरली विजय के नाम पर मुहर लगाती है, तो विराट कोहली के लिए बेहतरीन ओपनर की समस्या सुलझ सकती है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

मार्टिन गप्टिल (सनराइजर्स हैदराबाद)-

Martin Guptil

सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से खेलने वाले मार्टिन गप्टिल भी आरसीबी के लिए बेहतरीन विकल्प हो सकते हैं। इस बार के सीजन में हैदराबाद की अंतिम एकादश में गप्टिल के नाम पर कोई विचार नहीं किया। शायद इसी का परिणाम है कि हैदराबाद की टीम वर्तमान सीजन में 8 मैचों में से 4 में जीत हासिल करने के साथ अंक तालिका में 5वें स्थान पर है। वहीं गप्टिल के अलावा भी हैदराबाद की टीम में डेविड वॉर्नर, जॉनी बेयरस्टो और केन विलियमसन जैसे धाकड़ खिलाड़ी शामिल हैं। ऐसे में अगर गप्टिल को बैंगलोर की टीम की ओर से खेलने का मौका मिले, तो वह इस टीम के बेस्ट बैट्समैन साबित हो सकते हैं।

एविन लुईस (मुंबई इंडियंस)-

Evin Lewis

मुंबई इंडियंस आईपीएल की सबसे दमदार टीमों में से एक है। इस टीम में भारतीय और विदेशी खिलाड़ियों का बेजोड़ कॉम्बिनेशन देखने को मिलता है। जिसकी वजह से यह टीम अब तक तीन बार यह खिताब अपने नाम कर चुकी है। इस टीम में जहां रोहित शर्मा, हार्दिक पांड्या और सूर्यकुमार यादव जैसे धाकड़ भारतीय बल्लेबाज शामिल हैं, तो वहीं पोलार्ड, क्विंटन डि कॉक और लसिथ मलिंगा जैसे विदेशी क्रिकेटर भी शामिल हैं, जो अकेले दम पर मैच का रुख पलट सकते हैं। इनके अलावा इस टीम में एक ऐसा भी खिलाड़ी शामिल है, जो दुनिया का सबसे बेहतरीन टी-20 खिलाड़ी कहा जाता है। इस खिलाड़ी का नाम है एविन लुईस, जिन्हें केवल 2018 के आईपीएल में ही मौका मिला और उन्होंने उसमें अपने आपको साबित भी किया। लुईस ने 2018 में 13 मैचों में 138.40 के औसत से 382 रन बनाए थे। हालांकि लुईस को इस बार के आईपीएल में फिर से शो केस में ही बैठाया गया। ऐसे में लुईस आरसीबी के लिए बेहतरीन विकल्प हो सकते हैं। दुनिया का सबसे बेहतरीन टी20 बैट्समैन शायद आरसीबी में अपनी परमानेंट जगह बनाने में कामयाब हो सके।

मोएसिस हेनरिक्स (किंग्स इलेवन पंजाब)-

Moesis Henriques

आईपीएल के 12वें सीजन में किंग्स इलेवन पंजाब अपने फैन्स की उम्मीदों से ज्यादा बढ़कर प्रदर्शन कर रही है। किंग्स इलेवन पंजाब ने अभी तक टूर्नामेंट में 9 मैच खेले हैं और उनमें से 5 में जीत हासिल की है। इसके साथ ही वह अंक तालिका में चौथे नंबर पर है। इस बार टीम की कमान आर अश्विन संभाल रहे हैं और टीम को इस बार क्रिस गेल के रूप में आरसीबी की पुरानी ताकत मिली हुई है। पंजाब में इन दोनों खिलाड़ियों के अलावा केएल राहुल भी मौजूद हैं। हालांकि इसके अलावा भी पंजाब की टीम के पास रिजर्व में ऐसे कई खिलाड़ी हैं, जो चाहें तो अकेले ही मैच का रुख पलट सकते हैं। वहीं पंजाब का यह दुर्भाग्य है कि उनका स्टार खिलाड़ी मोएसिस हेनरिक्स 8वें मैच से ठीक पहले ही चोटिल हो गए और टीम से बाहर हो गए। उनकी जगह टीम में डेविड मिलर को शामिल किया गया। वहीं यह संभावना जताई जा रही है कि हेनरिक्स जल्द से जल्द अपनी चोट से उबर जाएंगे, हालांकि वह आगे अब मैच नहीं खेलेंगे।

ओशान थॉमस (राजस्थान रॉयल्स)-

Oshane thomas

रॉजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल की शुरुआती सीजन और उसके बाद के दो-तीन सीजन में कमाल का प्रदर्शन किया था और उसी दौरान इस टीम ने आईपीएल का खिताब भी जीता था लेकिन उसके बाद से इस टीम के खिलाड़ियों पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगने के कारण टीम बैकफुट पर आई और इस टीम का प्रदर्शन भी गिरता चला गया। वहीं वर्तमान सीजन में भी यह टीम अपने फैन्स को लुभाने में विफल रही है। इस टीम ने 8 मैचों में से अब तक केवल 2 मैच ही जीते हैं। राजस्थान में कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी शामिल हैं। इस टीम में एक स्टार गेंदबाज भी खिलाड़ी शामिल है, इनका नाम है ओशान थॉमस। जिन्हें 2019 के सीजन में 1.1 करोड़ रुपए में खरीदा गया लेकिन इनका इस्तेमाल टीम में नहीं हो सका। ऐसे में आरसीबी के लिए ओशान थॉमस भी कुछ कमाल कर सकते हैं, बशर्ते अगर उन्हें मौका दिया जाए।

संदीप वॉरियर (कोलकाता नाइटराइडर्स)-

Sandeep Warrier

वैसे तो कोलकाता नाइटराइडर्स की टीम में इन दिनों आंद्रे रसल का 'मसल' काम कर रहा है लेकिन उनके अलावा भी टीम में कई अनुभवशाली खिलाड़ी शामिल हैं, जो दिनेश कार्तिक की अगुवाई में कमाल कर सकते हैं। इस टीम के पास संदीप वॉरियर नाम का बेहतरीन पेसर भी मौजूद है। हालांकि कोलकाता की टीम इस गेंदबाज का सही इस्तमाल 2019 के सीजन में नहीं कर सकी है। बताते चलें कि वॉरियर पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का ही हिस्सा थे। ऐसे में अगर बैंगलोर की टीम का यह पुराना गेंदबाज वापस अपनी पुरानी टीम में वापस जाता है, तो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए टूर्नामेंट में आगे का रास्ता आसान हो सकता है।

शरफेन रदरफोर्ड (दिल्ली कैपिटल्स)-

Sharfane Ratherford

दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने साल 2019 के आईपीएल में सम्मानजनक प्रदर्शन किया है। क्योंकि इस बार की टीम कई युवा गेंदबाजों से सजी हुई है। साथ ही इस टीम में 20 साल के युवा गेंदबाज शरफेन रदरफोर्ड भी शामिल हैं। जिनका घरेलू क्रिकट करियर में रिकॉर्ड देखें, तो वह काफी शानदार है। हालांकि इन्हें दिल्ली की टीम की ओर से ज्यादा मौका नहीं मिला। वहीं आरसीबी की 11 सदस्यों वाली टीम में एक चेहरा रदरफोर्ड का होगा, तो बैंगलोर के लिए आगे की राहें आसान हो सकती हैं।

Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now