Create

आईपीएल 2019: चेन्नई सुपर किंग्स के 3 ऐसे खिलाड़ी जिन्हें आरसीबी अपनी टीम में शामिल करना चाहेगी

Enter caption

आईपीएल 2019 अब समापन की ओर बढ़ चला है। इस टूर्नामेंट में शामिल आठ टीमों में से चार टीमें जहां प्लेऑफ में पहुंच चुकी हैं, तो वहीं चार टीमें बाहर हो चुकी हैं। जिन टीमों ने प्लेऑफ में जगह बनाई है, उनमें दो टीमें तो ऐसी हैं, जो आईपीएल के 11 साल के इतिहास में 3-3 बार चैंपियन बनने का गौरव प्राप्त कर चुकी हैं, ये दोनों टीमें हैं - चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस। मुम्बई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच हुए पहले क्वालीफायर मुकाबले में जीत हासिल करके मुंबई इंडियंस फाइनल में प्रवेश कर चुकी है, यह कारनामा उन्होंने 5वीं बार किया है।

आईपीएल के इतिहास को उठाकर अगर देखा जाए, तो यह दोनों टीमें हर बार सबसे मजबूत नजर आई हैं। जबकि इनके अलावा एक टीम ऐसी भी है, जिससे हर बार यह उम्मीद की जाती है कि वो प्लेऑफ में जगह बनाकर खिताब जीतेगी लेकिन 3 बार फाइनल में पहुंचने के बावजूद भी उसे हार मिली है, वह टीम है - रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर

इस टीम में विराट कोहली, एबी डीविलयर्स, मार्कस स्टोइनिस और मोईन अली जैसे कई दिग्गज खिलाड़ी शामिल हैं फिर भी यह टीम 2016 के बाद से कभी भी प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाई है। इस बार भी उन्होंने 8वें स्थान पर अपना सीजन समाप्त किया है।

आज हम आपको चेन्नई सुपर किंग्स टीम के उन तीन खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर भी अपनी टीम में शामिल करना चाहती रही होगी।

#3. ड्वेन ब्रावो:

Enter caption

इस सीजन रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम में डेथ ओवरों में गेंदबाजी करने वाला कोई भी विशेषज्ञ गेंदबाज नहीं था। सही कहा जाय तो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेन्चाइजी ने इस सीजन कोई भी डेथ ओवर स्पेशलिस्ट गेंदबाज खरीदा ही नहीं था। नाथन कूल्टर नाइल की जगह पर डेल स्टेन आए तो ऐसा लगा कि अब टीम की स्थिति थोड़ी बहुत सुधर सकती है लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

ड्वेन ब्रावो वेस्टइंडीज के जबरदस्त ऑलराउंडर हैं। टी20 क्रिकेट में उनका एकतरफा सिक्का चलता है। उन्होंने इस सीजन 9 मैचों में 9 विकेट चटकाए हैं जबकि उनकी इकोनॉमी 8 के करीब रही है। ड्वेन ब्रावो डेथ ओवरों में शानदार गेंदबाजी भी करते हैं साथ ही उन्हें एक अतिरिक्त बल्लेबाज भी मिल जाता जो किसी भी बड़े लक्ष्य को हासिल करने में उनकी मदद करता। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी जरूर यह सोचती होगी कि ड्वेन ब्रावो उनकी टीम का हिस्सा रहें।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2. इमरान ताहिर:

Enter caption

आईसीसी टी20 गेंदबाज रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर रह चुके दक्षिण अफ्रीकी स्पिनर इमरान ताहिर इस आईपीएल सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स टीम के लिए तुरुप का इक्का साबित हुए हैं। वे इस सीजन सर्वाधिक विकेट लेने के मामले में दूसरे स्थान पर हैं। इमरान ताहिर ने चेन्नई सुपर किंग्स को प्लेऑफ में पहुंचाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। इमरान ताहिर ने इस साल रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 2 मैचों में 8 ओवर फेंकते हुए 40 रन दिए हैं और 4 विकेट चटकाए हैं। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम में युजवेंद्र चहल के अलावा स्पिनरों की कमी थी, हालांकि कुछ मैचों में मोईन अली ने इसका दायित्व निभाया फिर उनके जाने के बाद वॉशिंगटन सुंदर ने यह दायित्व निभाया लेकिन दोनों में से किसी ने ऐसा नहीं किया जैसा कि इमरान ताहिर ने इस सीजन किया है।

इमरान ताहिर ने इस सीजन 15 मैचों में 15.72 की औसत से 23 विकेट चटकाए हैं। इस दौरान उनकी इकोनॉमी 6.63 की रही हैं। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी उनके प्रदर्शन को देखते हुए यह जरूर सोचती होगी कि इमरान ताहिर उनके टीम का हिस्सा बनें।

#1. दीपक चाहर:

Enter caption

कप्तान के गेंदबाज कहे जाने वाले दीपक चाहर इस सीजन अपने कप्तान के उम्मीदों पर खरे उतरे हैं। उन्होंने पावरप्ले में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए काफी विकेट निकाले। उन्हें कप्तान का गेंदबाज इसलिए कहा जाता है क्योंकि वे एक सीमर गेंदबाज हैं जिसको कैसे और कहाँ प्रयोग करना है ये कप्तान को भली भांति सोचना पड़ता है। दीपक चाहर ने इस सीजन कभी-कभी पावरप्ले में 3 ओवर फेंकते हैं। यह सब कप्तान के एक विशेष रणनीति के तहत होता है क्योंकि 2-3 ओवरों बाद सीम समाप्त होने लगती है।

दीपक चाहर ने इस सीजन 15 मैचों में 25.8 की औसत से 17 विकेट चटकाए हैं। इस दौरान उनकी इकोनॉमी 7.57 की रही है। एम. चिन्नास्वामी की पिच पर पहले 6 ओवरों में विकेट चटकाना बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योंकि यह बल्लेबाजों ले लिए बहुत मददगार है और यहाँ पर तेज गेंदबाजों का बोलबाला भी रहता है। दीपक चाहर ने इस सीजन एम० चिन्नास्वामी के मैदान पर 4 ओवरों में 25 रन देकर 2 विकेट चटकाए हैं।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment