Create
Notifications

IPL 2020 - 3 चौंकाने वाली रणनीति जो इस सीजन टीमों के लिए काफी कारगर साबित हुई

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL
सावन गुप्ता
visit

आईपीएल (IPL) को दुनिया की सबसे बड़ी टी20 लीग माना जाता है। इसकी सबसे बड़ी वजह ये है कि इसमें दुनिया भर के सभी दिग्गज प्लेयर खेलते हैं और जब ये मेगा टूर्नामेंट चल रहा होता है तो उस वक्त दुनिया भर में बड़ी टीमों के बीच क्रिकेट नहीं हो रही होती है। इसलिए सबका ध्यान सिर्फ आईपीएल पर ही होता है और वे इसे काफी करीब से फॉलो करते हैं।

इस लीग में कई देशों के खिलाड़ी भारतीय खिलाड़ियों के साथ खेलते हैं और दर्शकों को इस लीग के बहाने दूसरे देशों के पसंदीदा खिलाड़ियों को भी भारतीय खिलाड़ियों के साथ देखने का मौका मिलता है। इस लीग में कई भारतीय और विदेशी खिलाड़ियों की जोड़ी हिट रही है।

दुनिया का सबसे बड़ा टी20 टूर्नामेंट होने की वजह से आईपीएल के टाइटल को हर टीम जीतना चाहती है। हालांकि ये आसान नहीं होता है कि क्योंकि सभी टीमें इसमें बराबर की टक्कर की होती हैं और अपना दिन होने पर कोई भी टीम किसी को भी हरा सकती है। इसीलिए टीमें कई तरह की रणनीति बनाती हैं ताकि वो जीत हासिल कर सकें।

ये भी पढ़ें: 2004 में ऑस्ट्रेलिया से घर में हारने वाली भारतीय टीम के सभी सदस्यों की जानकारी

आईपीएल के 13वें सीजन में भी टीमों ने बेहतरीन रणनीति के साथ मैदान में मुकाबला किया। इनमें से कुछ टैक्टिस तो सफल रहीं और कुछ फ्लॉप रहीं। हम आपको इस आर्टिकल में आईपीएल 2020 में टीमों द्वारा लिए कुछ चौंकाने वाले फैसलों के बारे में बताएंगे जो उनके लिए काफी सफल रहे।

3 चौंकाने वाले फैसले जो इस सीजन टीमों के लिए काफी कारगर साबित हुए

1.राजस्थान रॉयल्स का बेन स्टोक्स से ओपनिंग करवाना

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

राजस्थान रॉयल्स के बैटिंग ऑर्डर में इस सीजन काफी बदलाव देखने को मिले। खासकर ओपनिंग जोड़ी लगातार चेंज होती रही। सीजन की शुरुआत में यशस्वी जायसवाल और कप्तान स्टीव स्मिथ ने ओपनिंग की। इसके बाद जोस बटलर के साथ ओपनिंग करवाई गई।

हालांकि राजस्थान रॉयल्स ने तब हैरान करने वाला फैसला लिया जब उन्होंने बेन स्टोक्स से ओपनिंग करवाई। राजस्थान की टीम ने बेन स्टोक्स और रॉबिन उथप्पा को ओपनिंग का जिम्मा सौंपा और ये रणनीति कारगर रही। रॉबिन उथप्पा पहले एक ओपनर ही थे इसलिए उन्हें कोई दिक्कत नहीं हुई, वहीं बेन स्टोक्स ने एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने कई मैचों में टीम को तेज शुरुआत दिलाई और यहां तक कि शतक भी जड़ दिया।

राजस्थान रॉयल्स की ये रणनीति काफी सफल रही लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी और वो टूर्नामेंट में आखिरी पायदान पर रहे।

ये भी पढ़ें: IPL 2020- 3 दिग्गज खिलाड़ी जिन्हें शायद उस टीम में नहीं होना चाहिए, जिसमें अभी वो हैं

2.दिल्ली कैपिटल्स का मार्कस स्टोइनिस से ओपनिंग करवाना

मार्कस स्टोइनिस
मार्कस स्टोइनिस

दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने इस सीजन जबरदस्त प्रदर्शन किया और फाइनल में पहुंचे। ये आईपीएल इतिहास में उनका पहला फाइनल था। हालांकि दिल्ली के लिए ओपनिंग इस सीजन एक बड़ी समस्या रही, क्योंकि शुरुआती कुछ मैचों के बाद पृथ्वी शॉ फ्लॉप रहे।

इसके बाद आखिर के कुछ मुकाबलों के लिए दिल्ली ने एक चौंकाने वाला फैसला लिया और मार्कस स्टोइनिस से ओपनिंग करवाया। ये निर्णय काफी कारगर साबित हुआ और स्टोइनिस ने शुरुआत में आकर ताबड़तोड़ अंदाज में बैटिंग की। आरसीबी के खिलाफ प्लेऑफ मुकाबले में स्टोइनिस ने जबरदस्त पारी खेली। हालांकि फाइनल मैच में वो फ्लॉप रहे और टीम को हार का सामना करना पड़ा।

3.किंग्स इलेवन पंजाब का क्रिस गेल को नंबर 3 पर खिलाना

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम इस आईपीएल सीजन भले ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाई लेकिन उनके सलामी बल्लेबाजों का प्रदर्शन काफी लाजवाब रहा। के एल राहुल और मयंक अग्रवाल की जोड़ी ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। के एल राहुल एक शतक के साथ इस सीजन सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे।

यही वजह रही कि क्रिस गेल जैसे दिग्गज बल्लेबाजों को पहले कई मुकाबलों में बाहर बैठना पड़ा। हालांकि जब गेल को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया तो पंजाब ने उनसे ओपनिंग नहीं करवाई बल्कि 3 नंबर पर खिलाया और ये रणनीति काफी कारगर रही। गेल ने पहले ही मुकाबले में अर्धशतक जड़ दिया और उनके आने के बाद टीम ने लगातार 5 मुकाबले जीत लिए। कह सकते हैं कि किंग्स इलेवन पंजाब का ये फैसला मास्टर स्ट्रोक साबित हुआ।

Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now