Create
Notifications

IPL 2020: 4 दिग्गज खिलाड़ी जिन्हें प्लेइंग XI से बाहर कर दिया जाना चाहिए 

Photo: IPL
Photo: IPL
मयंक मेहता
visit

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) की शुरूआत धमाकेदार और अभी काफी ज्यादा जबरदस्त मुकाबले देखने को मिल रहे हैं। पिछले साल की विजेता टीम मुंबई इंडियंस टीम का प्रदर्शन इस साल भी काफी जबरदस्त चल रहा है और अभी तक वो 8 अंकों के साथ पहले स्थान पर काबिज हैं।

यह भी पढ़ें: IPL 2020 में सबसे ज्यादा विकेट (Purple Cap) लेने वाले टॉप 10 खिलाड़ियों की लिस्ट

उनके अलावा दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर दो ऐसी टीमें हैं, जिन्होंने अपने निरंतर प्रदर्शन से काफी ज्यादा प्रभावित किया है। इस बीच टूर्नामेंट में अभी तक बहुत से ऐसे युवा खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने शानदार प्रदर्शन करके दिखाया है। पृथ्वी शॉ, शुभमन गिल, राहुल तेवतिया, राहुल त्रिपाठी, मयंक अग्रवाल जैसे कई युवी खिलाड़ी अपना जोश दिखा चुके हैं।

दिग्गज खिलाड़ियों की बात करें तो विराट कोहली, रोहित शर्मा, केएल राहुल ने अपनी टीम के लिए अच्छा किया है। हालांकि कुछ अहम खिलाड़ी ऐसे भी रहे हैं, जिनका प्रदर्शन काफी फीका रहा है और वो उनके कारण ही टीम का बैलेंस भी बिगड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: IPL 2020 पॉइंट्स टेबल (अंक तालिका)

इस आर्टिकल में हम ऐसे ही 4 खिलाड़ियों के बारे में बात करने वाले हैं, जिनकी जगह IPL 2020 में प्लेइंग इलेवन में बिल्कुल नहीं बनती है:

#) शिवम दुबे (रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर)

Photo: IPL
Photo: IPL

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के मुख्य ऑलराउंडर में से एक शिवम दुबे ने IPL 2020 की शुरुआत काफी अच्छी की और गेंद के साथ पहले दो मैचों में अपना योगदान भी दिया। हालांकि दुबे 5 मैचों में सिर्फ 97 रन ही बना पाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 129.33 का ही रहा है। आरसीबी को अबतक दो मैचों में करारी हार का सामना करना पड़ा है और इन मैचों में दुबे से उम्मीद थी कि वो टीम को मुश्किल स्थिति से निकाले।

हालांकि वो पूरी तरह इस काम में विफल रहे और इसी वजह से उनकी जगह टीम में बिल्कुल भी नहीं बनती है। आरसीबी दुबे की जगह टीम में पवन नेगी को खिला सकती है। नेगी न सिर्फ बाएं हाथ के स्पिनर के रूप में मदद करेंगे, बल्कि वो एक उपयोगी बल्लेबाज के साथ शानदार फील्डर भी हैं। निश्चित ही पवन नेगी आरसीबी टीम में काफी ज्यादा योगदान दे सकते हैं।

यह भी पढ़ें: IPL 2020 में सबसे ज्यादा रन (Orange Cap) बनाने वाले टॉप 10 खिलाड़ियों की लिस्ट

#) शिमरन हेटमायर (दिल्ली कैपिटल्स)

Photo : IPL
Photo : IPL

दिल्ली कैपिटल्स ने 5 में 4 मुकाबले जीते हैं और वो 8 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर हैं। हालांकि फिर टीम की सबसे कमजोर कड़ी अभी तक जो नजर आए हैं, वो शिमरन हेटमायर हैं। शिमरन रेटमायर अपनी तूफानी बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं, लेकिन इस सीजन उनका बल्ला पूरी तरह से शांत रहा है।

शिमरन हेटमायर ने अभी तक 5 मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने 124.32 के स्ट्राइक रेट से सिर्फ 46 रन बनाए हैं। इस बीच उन्हें तीन नंबर पर भी बल्लेबाजी का मौका मिला है और अब टीम उन्हें बतौर फिनिशर इस्तेमाल कर रही है। हालांकि यूएई की विकेट पर काफी संघर्ष कर रहे हैं और इसी वजह से प्लेइंग इलेवन में उनकी जगह नहीं बनती है।

उनकी जगह टीम कीमो पॉल या फिर एलेक्स कैरी को शामिल कर सकती है। कीमो पॉल टीम को एक अतिरिक्त गेंदबाज का विकल्प दे सकते हैं, तो एलेक्स कैरी एक अच्छे फिनिशर तो है ही, लेकिन साथ में वो टीम को मुश्किल स्थिति में संभाल भी सकते हैं। शिमरन हेटमायर की फील्डिंग भी काफी ज्यादा साधरण रही है। दिल्ली कैपिटल्स को अगर अच्छा प्रदर्शन करना जारी रखना है, तो उन्हें हेटमायर को बाहर करके एक बेहतर फिनिशर को जगह देनी होगी।

#) ग्लेन मैक्सवेल (किंग्स XI पंजाब)

Photo: IPL
Photo: IPL

इस साल आईपीएल में ग्लेन मैक्सवेल जिस फॉर्म में आ रहे थे किंग्स XI पंजाब के साथ सभी को ही उनसे बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद थी। हालांकि अभी तक ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज ने पूरी तरह निराश किया है और किंग्स XI पंजाब के खराब प्रदर्शन का एक कारण वो भी है।

ग्लेन मैक्सवेल ने आईपीएल 2020 में अभी तक 5 मैच खेले हैं, जिसमें सिर्फ 41 रन बनाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट भी 93.18 का ही है। पंजाब टीम का मध्यक्रम पूरी तरह से फ्लॉप रहा है और मैक्सवेल से जब सबसे ज्यादा उम्मीद थी उन्होंने हर बार टीम को निराश ही किया है। इसी वजह से उनकी जगह टीम में बिल्कुल नहीं बनती है।

गौर करने वाली बात यह है कि पंजाब टीम में क्रिस गेल जैसा धुरंधर खिलाड़ी बाहर बैठा है और मैक्सवेल के लगातार फ्लॉप होने के बाद यह सवाल उठने लगे है कि गेल को टीम में शामिल किया जाना चाहिए।

#) केदार जाधव (चेन्नई सुपर किंग्स)

Photo: IPL
Photo: IPL

आईपीएल 2020 में जिस टीम ने अपने प्रदर्शन से सबसे ज्यादा निराश किया है वो चेन्नई सुपर किंग्स ही है। हालांकि टीम के खराब प्रदर्शन का कारण उनके अनुभवी खिलाड़ियों का अहम रोल रहा है। इसमें एक नाम केदार जाधव भी है। केदार जाधव ने टूर्नामेंट में अभी तक 6 मैचों में सिर्फ 58 रन बनाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 100 से नीचे का है।

गौर करने वाली बात यह है कि जाधव पिछले साल भारतीय टीम की वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा थे और वो पूरी तरह से आउट ऑफ फॉर्म नजर आ रहे हैं। केदार जाधव का इस्तेमाल सीएसके गेंद के साथ नहीं कर रही और न ही वो एक अच्छे फील्डर है। दूसरी तरफ उनकी बल्लेबाजी में इंटेंट की कमी साफ तौर पर देखी जा सकती है।

कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मैच में जिस तरह अंत में उन्होंने बल्लेबाजी की, वो काफी हैरान करने वाली थी। इसी वजह से अब समय आ गया है उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर किया जाए। सीएसके जाधव की जगह युवा खिलाड़ियों को मौका दे सकती है।

Edited by मयंक मेहता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now