Create
Notifications

IPL 2021 - 'दूसरे चरण में प्रत्येक टीम के मध्यक्रम ने संघर्ष किया है'

मैक्सवेल ने आरसीबी के लिए मध्यक्रम में अच्छा खेल दिखाया है
मैक्सवेल ने आरसीबी के लिए मध्यक्रम में अच्छा खेल दिखाया है
Prashant Kumar

आईपीएल (IPL) 2021 के दूसरे चरण में यूएई के मैदानों में टॉप आर्डर के बल्लेबाजों का बोलबाला दिखा है लेकिन मध्यक्रम के बल्लेबाज संघर्ष करते हुए दिखाई दिए हैं। पंजाब किंग्स (PBKS), सनराइज़र्स हैदराबाद (SRH) तथा राजस्थान रॉयल्स (RR) इसका सबसे बड़ा उदहारण हैं। मध्य्रकम के बल्लेबाजों को लेकर पूर्व भारतीय खिलाड़ी दीप दासगुप्ता ने भी प्रतिक्रिया दी है। दीप दासगुप्ता का मानना है कि दूसरे चरण में आरसीबी (RCB) को छोड़कर अन्य सभी टीमों के मध्यक्रम ने संघर्ष किया है और यह चीज काफी निराश करने वाली रही है।

आईपीएल 2020 की निराशा को पीछे छोड़ते हुए ग्लेन मैक्सवेल इस सीजन आरसीबी के लिए सबसे बड़े मैच विनर साबित हुए हैं। मैक्सवेल ने इस सीजन हर दूसरे मैच में आरसीबी के लिए बल्ले के साथ योगदान दिया है तथा मध्यक्रम के अन्य बल्लेबाजों की असफलता का टीम के प्रदर्शन पर प्रभाव नहीं पड़ने दिया।

अपने यूट्यूब चैनल पर लाइव सेशन के दौरान, दीप दासगुप्ता ने कहा कि आईपीएल 2021 के दूसरे चरण में हर टीम के मध्यक्रम ने बहुत संघर्ष किया है। उनका मानना है कि यूएई में पिचें केवल पहले छह ओवरों में ही बल्लेबाजी के लिए आसान रही हैं। गेंद के पुराना होने पर बल्लेबाजी काफी मुश्किल नजर आती है। उन्होंने कहा,

ईमानदारी से कहूं तो दूसरे चरण में- हर टीम के मध्य क्रम ने संघर्ष किया है, चाहे वह मुंबई, सीएसके, दिल्ली, पंजाब या कोई अन्य फ्रेंचाइजी हो। निकाल दिया। मैक्सवेल की बदौलत आरसीबी को छोड़कर किसी और टीम का मध्यक्रम नहीं चला।
यूएई में पहले 6-7 ओवरों के दौरान पिचें अच्छी रहती हैं, लेकिन फिर खराब होने लगती है। जब गेंदें पुरानी हो जाती हैं तो बल्लेबाजों के लिए मुश्किल हो जाती है। टी20 में हर बल्लेबाज शुरू से ही गेंद को स्लॉग करने की कोशिश करता है। मध्यक्रम के बल्लेबाजों से इस बार कठिन परिश्रम नहीं दिखा।

सीएसके के खराब प्रदर्शन के लिए भी मध्यक्रम जिम्मेदार - दीप दासगुप्ता

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए आखिरी तीन लीग मैच काफी निराशाजनक रहे। टीम को तीनों ही मैचों में हार मिली तथा प्लेऑफ से पहले उनकी लय खराब हो गयी। दीप दासगुप्ता ने इसके पीछे कुछ अहम कारणों का जिक्र करते हुए कहा,

पहले चरण में मोइन अली शानदार फॉर्म में थे। यूएई में उनका प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा है। इसके अलावा रायडू का प्रदर्शन भी ऊपर-नीचे हुआ है। और दुर्भाग्य से जडेजा निचले क्रम में बल्लेबाजी कर रहे हैं। हां, उनका मध्यक्रम भी संघर्ष करता हुआ नजर आया है।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...