Create

IPL 2021 - 'मैं चाहता हूं कि अगले सीजन आर अश्विन दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी करें' 

रविचंद्रन अश्विन को आईपीएल में कप्तानी का अनुभव है
रविचंद्रन अश्विन को आईपीएल में कप्तानी का अनुभव है
reaction-emoji
Prashant Kumar

आईपीएल (IPL) 2021 के समाप्त होने के बाद अगले सीजन में प्रशंसकों को काफी कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे। कई टीमों के स्क्वॉड में से कुछ प्रमुख खिलाड़ी दूसरी टीम का भी हिस्सा हो सकते हैं। हालांकि इस बीच दिल्ली कैपिटल्स (DC) की बात की जाये तो उनकी टीम में भी जबरदस्त खिलाड़ी मौजूदा हैं और अगले सीजन में काफी बदलाव देखने को मिल सकता है। मौजूदा सीजन में ऋषभ पंत अहम मैचों में बतौर कप्तान दवाब में बिखरते हुए नजर आये और इसी वजह से कई गलत फैसले भी लिए। अगले सीजन दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी को लेकर पूर्व भारतीय खिलाड़ी गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने दिग्गज स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) के नाम का सुझाव दिया है।

कल खेले गए क्वालीफ़ायर 2 में दिल्ली की टीम को एक रोमांचक मैच में हार का सामना करना पड़ा। एक समय केकेआर आसानी से जीत की तरफ अग्रसर दिख रही थी लेकिन दिल्ली के गेंदबाजों ने वापसी की। मैच अंतिम ओवर तक गया और अश्विन ने दो विकेट भी चटकाए लेकिन राहुल त्रिपाठी के एक छक्के ने मैच केकेआर के पक्ष में कर दिया और फाइनल में प्रवेश किया।

ईएसपीएन क्रिकइंफो के साथ बात करते हुए गंभीर ने ऋषभ पंत और श्रेयस को दरकिनार करते हुए आर अश्विन को अगले सीजन दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान के रूप में चुना। गंभीर ने कहा,

देखो, मैं उनके सबसे बड़े प्रशंसकों में से एक हूं और वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में से एक हैं। इसलिए, हां, यह एक हटकर फैसला हो सकता है और केवल मैं ही इस बारे में सोच सकता हूं लेकिन मैं उन्हें अगले साल दिल्ली कैपिटल्स का कप्तान बनाना चाहूंगा।

रविचंद्रन अश्विन टी20 के बेहतरीन बॉलर नहीं हैं - संजय मांजरेकर

संजय मांजरेकर ने आर अश्विन के लिए तीखी प्रतिक्रिया दी है। मांजरेकर के मुताबिक वो कभी नहीं चाहेंगे कि अश्विन जैसा गेंदबाज उनकी टीम में हो। इसकी बजाय वो वरुण चक्रवर्ती और सुनील नारेन जैसे विकेट टेकिंग गेंदबाजों को अपनी टीम में लेना चाहेंगे। उन्होंने कहा,

हम अश्विन के बारे में काफी ज्यादा बात करते हैं। एक टी20 बॉलर के तौर पर किसी भी टीम के लिए अश्विन सही नहीं हैं। अगर आप चाहते हैं कि अश्विन के अंदर बदलाव आए तो मुझे नहीं लगता है कि ऐसा होने जा रहा है क्योंकि वो पिछले पांच-सात साल से ऐसे ही हैं। टेस्ट मैचों में उनके ऊपर डिपेंड करना सही है क्योंकि वो बेहतरीन टेस्ट बॉलर हैं लेकिन आईपीएल और टी20 क्रिकेट में वो उतने कारगर नहीं हैं। अगर मुझे टर्निंग पिच मिले तो मैं अपनी टीम में अश्विन को कभी नहीं शामिल करूंगा। मैं वरुण चक्रवर्ती, सुनील नारेन या फिर चहल जैसे गेंदबाजों को ज्यादा महत्व दूंगा। इसकी वजह ये है कि टी20 में अश्विन एक विकेट टेकिंग ऑप्शन नहीं हैं और मुझे नहीं लगता है कि कोई भी फ्रेंचाइजी उन्हें अपनी टीम में सिर्फ रन रेट कम करने के लिए रखेगी।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...