Create

IPL 2021 - सोशल मीडिया पर आरसीबी को भला-बुरा कहने वाले लोगों को ग्लेन मैक्सवेल ने दिया करारा जवाब

ग्लेन मैक्सवेल (Photo Credit - IPLT20)
ग्लेन मैक्सवेल (Photo Credit - IPLT20)
सावन गुप्ता

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की टीम एक और आईपीएल (IPL) सीजन बिना ट्रॉफी जीते टूर्नामेंट से बाहर हो गई। एलिमिनेटर मुकाबले में केकेआर (KKR) से मिली हार के बाद आरसीबी का टाइटल जीतने का सपना टूट गया। टीम की इस हार के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें काफी भला-बुरा कहा जा रहा है। वहीं दिग्गज बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने आरसीबी (RCB) को भला-बुरा कहने वाले लोगों को करारा जवाब दिया है।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को केकेआर के खिलाफ एलिमिनेटर मुकाबले में रोमांचक तरीके से हार का सामना करना पड़ा। आरसीबी पहले खेलते हुए सात विकेट पर सिर्फ 138 रन ही बना पाई। कप्तान कोहली ने सबसे ज्यादा 39 रन बनाए। जवाब में केकेआर ने इस लक्ष्य को 19.4 ओवर में छह विकेट खोकर हासिल कर लिया। इस तरह से एक और सीजन आरसीबी बिना टाइटल जीते टूर्नामेंट से बाहर हो गई।

ग्लेन मैक्सवेल ने ट्वीट कर दी अपनी प्रतिक्रिया

ग्लेन मैक्सवेल ने ट्वीट कर आरसीबी प्लेयर्स को भला-बुरा कहने वाले लोगों को सबक सिखाया। उन्होंने अपने ट्वीट्स में लिखा,

आरसीबी के लिए ये सीजन काफी अच्छा रहा। दुर्भाग्य से हम वहां तक नहीं पहुंच पाए जहां तक पहुंचना था लेकिन इसके बावजूद हमारा सीजन अच्छा रहा। हालांकि सोशल मीडिया पर कई तरह की बकवास की जा रही है जो काफी खराब है। हम लोग इंसान हैं जो हर दिन अपना बेस्ट देने की कोशिश करते हैं। गाली देने की बजाय एक अच्छा इंसान बनने की कोशिश कीजिए। मैं अपने रियल फैंस का आभार प्रकट करना चाहता हूं जो टीम के साथ अभी भी खड़े हैं। हालांकि कुछ लोगों ने सोशल मीडिया को काफी खराब बना दिया है।

ग्लेन मैक्सवेल ने आगे एक और ट्वीट किया और कहा कि गाली देने वाले लोगों को ब्लॉक कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा,

अगर आप मेरे किसी दोस्त, साथी खिलाड़ी या मेरे ऊपर कोई अभद्र टिप्पणी करेंगे तो फिर आपको हर किसी की तरफ से ब्लॉक कर दिया जाएगा। बुरा इंसान बनने की क्या जरूरत है।

आपको बता दें कि ग्लेन मैक्सवेल ने इस सीजन आरसीबी की तरफ से जबरदस्त प्रदर्शन किया और वो टीम की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे।


Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...