Create
Notifications

IPL 2021 - पंजाब किंग्स के खिलाफ शानदार गेंदबाजी गेंदबाजी करने के बाद युजवेंद्र चहल ने खुद के प्रदर्शन को लेकर दी बड़ी प्रतिक्रिया   

युजवेंद्र चहल ने दूसरे चरण में जबरदस्त गेंदबाजी की है
युजवेंद्र चहल ने दूसरे चरण में जबरदस्त गेंदबाजी की है
Prashant Kumar

आईपीएल (IPL) 2021 के 48वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की टीम पंजाब किंग्स (PBKS) को हराकर इस सीजन के प्लेऑफ में पहुंचने वाली तीसरी टीम बन गयी है। आरसीबी के जीत में टीम के बल्लेबाजों के साथ ही गेंदबाजों का भी बड़ा योगदान रहा और इस मामले में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yujvendra Chahal) सबसे आगे रहे। चहल ने बीच के ओवरों में आकर पंजाब के अहम बल्लेबाजों के विकेट चटकाए और विपक्षी टीम के रन चेस को कमजोर कर दिया। पंजाब के खिलाफ शानदार गेंदबाजी के बाद चहल ने अपनी गेंदबाजी योजना को लेकर भी बात की।

आरसीबी की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मैक्सवेल तथा पडीक्कल की पारियों की मदद से पंजाब किंग्स के सामने 165 रन का लक्ष्य रखा था। लक्ष्य का पीछा करते पंजाब किंग्स की शुरुआत अच्छी रही और राहुल तथा अग्रवाल की जोड़ी ने 91 रन जोड़े। हालांकि राहुल के आउट होने के बाद पंजाब किंग्स की रफ़्तार धीमी हो गयी और इसका पूरा श्रेय चहल को जाता है। अंत में शाहरुख़ खान के रन आउट होते ही पंजाब की उम्मीदें खत्म हो गयी और आरसीबी ने 6 रन से जीत हासिल की। चहल ने 4 ओवर में 29 रन देकर 3 महत्वपूर्ण विकेट चटकाए।

मैच के बाद अपनी गेंदबाजी को लेकर चहल ने कहा,

मैंने अपने मजबूत पक्ष पर विश्वास जताया तथा आज अपनी लाइन में बदलाव भी किया। इस विकेट पर, 160 का स्कोर बहुत अच्छा है। हमे मालूम था कि अगर हमने शुरुआत में विकेट हासिल कर लिए, तो उन पर दवाब बना सकते थे। बीच के ओवरों में, हमने और अधिक डॉट गेंदे डालने का प्रयास किया।

युजवेंद्र चहल कम से कम रिज़र्व खिलाड़ियों में जगह मिलनी चाहिए - दीप दासगुप्ता

भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर दीप दासगुप्ता का मानना है कि मौजूदा आईपीएल फॉर्म को देखते हुए युजवेंद्र चहल को टीम इंडिया के रिजर्व खिलाड़ियों में तो जगह मिलनी ही चाहिए। उन्होंने कहा,

युजवेंद्र चहल का नाम रिजर्व में भी नहीं देखकर मैं हैरान रह गया था। मैं समझ सकता हूं कि राहुल चाहर ने इंग्लैंड और श्रीलंका के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि आप 10 अक्टूबर तक कुछ बदलाव कर सकते हैं। इसलिए चहल को कम से कम रिजर्व में तो होना चाहिए। वहीं राहुल चाहर को भी समर्थन देना चाहिए। सिर्फ इसलिए कि उन्होंने कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया, तो वह खराब गेंदबाज नहीं है।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...