Create
Notifications

ग्लेन मैक्सवेल ने दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच "नो बॉल" ड्रामे को लेकर दी बड़ी प्रतिक्रिया

नो बॉल को लेकर काफी विवाद हुआ (Photo Credit - IPLT20)
नो बॉल को लेकर काफी विवाद हुआ (Photo Credit - IPLT20)
reaction-emoji
सावन गुप्ता

आईपीएल 2022 (IPL) में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) और राजस्थान रॉयल्स (RR) के बीच मुकाबले के दौरान आखिरी ओवर में "नो बॉल" को लेकर जो कुछ भी हुआ, उसकी इस वक्त काफी चर्चा हो रही है। हर कोई इस पर अपनी - अपनी प्रतिक्रिया दे रहा है। इसी कड़ी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के दिग्गज बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई कि अंपायरों ने नो बॉल चेक नहीं किया।

दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच मुकाबले में अंतिम ओवर के दौरान ड्रामा देखने को मिला। अम्पायरिंग को लेकर दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पन्त और टीम के अन्य साथी नाखुश दिखे। अंतिम ओवर दिल्ली के लिए काफी अहम था और कमर की ऊँचाई की गेंद को नो बॉल नहीं देने को लेकर हंगामा हुआ।

दिल्ली की टीम को अंतिम ओवर में जीतने के लिए 36 रन चाहिए थे। राजस्थान की तरफ ओबेड मैकॉय गेंदबाजी कर रहे थे और रोवमैन पॉवेल बल्लेबाजी कर रहे थे। पहली दो गेंदों पर लगातार दो छक्के जड़ने के बाद तीसरी गेंद फुल टॉस थी और उसे भी छह रन के लिए बल्लेबाज ने बाहर भेज दिया। इस तरह तीन गेंदों पर लगातार छक्के आए लेकिन तीसरी गेंद को अम्पायर ने कमर की नो बॉल के रूप में चेक नहीं किया। इससे गुस्सा होकर ड्रेसिंग रूम से ऋषभ पन्त ने अपने बल्लेबाजों को वापस आने के लिए कह दिया। इसके बाद बल्लेबाज चलकर आने लगे। इस बीच दिल्ली के असिस्टेंट कोच प्रवीण आमरे मैदान पर जाकर अम्पायर से बात करते दिखे।

नो बॉल को लेकर ग्लेन मैक्सवेल की प्रतिक्रिया

ग्लेन मैक्सवेल ने इन सबको लेकर अपनी बड़ी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा,

अंपायर फ्रंट-फुट का नो बॉल हर बार चेक करते हैं लेकिन फुलटॉस वाले नो बॉल को चेक नहीं करते हैं। क्या इसका कोई तुक बनता है ?
So umpires check no balls for front foot every ball, but can’t check a high full toss? Makes sense… https://t.co/RUOX3Yh3YF

Edited by सावन गुप्ता
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...