Create

दीपक चाहर की रिप्लेसमेंट के रूप में पूर्व क्रिकेटर ने युवा खिलाड़ी को प्लेइंग XI में शामिल करने का दिया सुझाव 

दीपक चाहर चोट की वजह से शुरूआती मैचों का हिस्सा नहीं होंगे
दीपक चाहर चोट की वजह से शुरूआती मैचों का हिस्सा नहीं होंगे

आईपीएल 2022 (IPL 2022) में ख़िताब बचाने के उद्देश्य से उतरने वाली चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले ही बड़ा झटका लगा, जब उनके प्रमुख तेज गेंदबाज दीपक चाहर (Deepak Chahar) चोटिल होने के कारण लगभग आधे मुकाबलों से बाहर हो गए। ऐसे में धोनी के पास अपने इस स्विंग गेंदबाज की एक आदर्श रिप्लेसमेंट ढूढ़ने की चुनौती होगी। इस बीच पूर्व भारतीय ऑलराउंडर इरफ़ान पठान ने एक शानदार युवा खिलाड़ी को दीपक चाहर के फिट होने तक प्लेइंग XI में शामिल करने का सुझाव दिया है।

सीएसके ने मेगा ऑक्शन में अंडर-19 वर्ल्ड कप टीम के ऑलराउंडर राजवर्धन हंगरगेकर को 1.5 करोड़ की बड़ी राशि में खरीदा। पठान ने इस युवा खिलाड़ी को प्लेइंग XI में खिलाने का सुझाव दिया है।

स्टार स्पोर्ट्स के शो 'गेम प्लान' पर इरफ़ान पठान ने युवा खिलाड़ी की क्षमता की सराहना की और स्वीकार किया कि अगर वह किसी अन्य फ्रेंचाइजी में होता तो उन्हें उसके बारे में चिंता होती, लेकिन सीएसके में उसका मार्गदर्शन करने के लिए एमएस धोनी एक लीडर के रूप में मौजूद हैं। पूर्व ऑलराउंडर ने कहा,

शार्दुल ठाकुर भी नहीं हैं इसलिए आपको यह सुनिश्चित करने की ज़रूरत है कि आपको एक रिप्लेसमेंट मिल जाए। उनके पास हंगरगेकर के रूप में एक युवा खिलाड़ी मौजूद हैं। आप जानते हैं कि वह एक शानदार युवा प्रतिभा है। अगर कोई युवा खिलाड़ी दूसरी टीम में आता है तो मैं थोड़ा और चिंतित हो सकता हूं लेकिन उनके पास एमएस धोनी हैं, उनका कप्तान स्टंप के पीछे है और इससे युवा लोगों के लिए चीजें बहुत आसान हो जाती हैं। इसलिए मुझे लगता है कि उन्हें लगभग रिप्लेसमेंट मिल गया है।

दीपक चाहर वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछली महीने समाप्त हुई टी20 सीरीज के आखिरी मैच में हैमस्ट्रिंग का शिकार हो गए थे और इसके बाद से ही बाहर चल रहे हैं। चेन्नई सुपर किंग्स ने दीपक को 14 करोड़ में खरीदा था।

सीएसके को हंगरगेकर पर निर्भरता दिखानी होगी - इरफ़ान पठान

अभ्यास के दौरान हंगरगेकर को कुछ समझाते हुए एमएस धोनी
अभ्यास के दौरान हंगरगेकर को कुछ समझाते हुए एमएस धोनी

इरफ़ान पठान का मानना है कि जब तक दीपक चाहर की वापसी नहीं होती है तब तक फ्रेंचाइजी को राजवर्धन हंगरगेकर पर निर्भरता दिखानी होगी। उन्होंने कहा,

दीपक चाहर के जैसा गेंदबाज खोजना आसान नहीं है क्योंकि जिस तरह के वह गेंदबाज हैं और जैसा कौशल वह टेबल पर लाते हैं जैसे कि गेंदब को स्विंग कराना और जल्दी विकेट लेना। जैसे ही वह फिट होंगे तो प्लेइंग इलेवन में आ जायेंगे लेकिन तब तक उन्हें हंगरगेकर पर निर्भरता दिखानी होगी। मुझे लगता है कि वह काफी क्षमता के साथ आया है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment