Create

"ये बुमराह-वुमराह क्या करेंगे"- पूर्व खिलाड़ी ने दिग्गज गेंदबाज को लेकर विराट कोहली से हुई अपनी बातचीत को किया याद 

जसप्रीत बुमराह को लेकर विराट कोहली की पहली प्रतिक्रिया का पार्थिव पटेल ने खुलासा किया है
जसप्रीत बुमराह को लेकर विराट कोहली की पहली प्रतिक्रिया का पार्थिव पटेल ने खुलासा किया है

आईपीएल (IPL) में विराट कोहली (Virat Kohli) के साथ कई सीजन खेलने वाले पूर्व भारतीय खिलाड़ी पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने खुलासा किया है कि उन्होंने 2014 में कोहली से बुमराह पर गौर करने को कहा था लेकिन तत्कालीन कप्तान कोहली ने उनके सुझाव को महत्व नहीं दिया। कोहली ने 2013 से लेकर 2021 तक आरसीबी की कमान संभाली लेकिन उन्हें ट्रॉफी नहीं हासिल हुई। इस दौरान पार्थिव पटेल उनके कप्तानी के अंडर कई सीजन खेले और आरसीबी के एक अहम सदस्य भी साबित हुए।

भारत के पूर्व विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने कहा कि उन्होंने विराट कोहली को जसप्रीत बुमराह के बारे में बताया था, लेकिन तत्कालीन आरसीबी कप्तान ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। दिलचस्प बात यह है कि बुमराह ने 2013 के इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस के लिए पहले ही डेब्यू कर लिया था और आईपीएल में पहला विकेट भी कोहली ही थे।

क्रिकबज पर विराट के साथ बुमराह को लेकर अपनी बातचीत को याद करते हुए पार्थिव ने कहा,

2014 में, जब मैं आरसीबी में था, मैंने कोहली से कहा था कि बुमराह नाम का गेंदबाज है और उस पर एक नजर डालें। विराट ने जवाब देते हुए कहा 'छोड़ ना यार। ये बुमराह-वुमराह क्या करेंगे?

आईपीएल में चुने जाने के बाद बुमराह ने 2-3 साल रणजी खेला था- पार्थिव पटेल

बुमराह ने 2013 में ही आईपीएल और रणजी डेब्यू किया था
बुमराह ने 2013 में ही आईपीएल और रणजी डेब्यू किया था

गुजरात के जसप्रीत बुमराह को आईपीएल 2013 के ऑक्शन के दौरान मुंबई इंडियंस ने चुना था और उसी सीजन उन्हें डेब्यू का मौका भी मिला था। इसके कुछ महीनों बाद उन्होंने अपना प्रथम श्रेणी डेब्यू करते हुए पार्थिव पटेल की ही कप्तानी में रणजी ट्रॉफी खेली थी। बुमराह के शुरूआती घरेलू करियर को लेकर उन्होंने कहा,

जब उन्हें पहली बार चुना गया, तो बुमराह ने पहले 2-3 वर्षों के लिए रणजी ट्रॉफी खेली। 2013 उनका पहला साल था, और 2014 में उनका सीजन अच्छा नहीं रहा। 2015 में, यह इतना बुरा था कि चर्चा चल रही थी कि उन्हें सीजन के बीच में घर वापस भेजना पड़ सकता है। लेकिन, उन्होंने धीरे-धीरे सुधार करना शुरू कर दिया और मुंबई इंडियंस ने वास्तव में उनका समर्थन किया। यह उनकी अपनी कड़ी मेहनत और ऐसा समर्थन था जिससे उनका सर्वश्रेष्ठ सबके सामने आया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment