Create
Notifications

आईपीएल: 3 सीज़न जब पहले मैच के विजेता ने जीती ट्रॉफी

Enter caption
Rahul Pandey

इंडियन प्रीमियर लीग एक लंबा टूर्नामेंट होता है, जहां किसी भी टीम के पास टूर्नामेंट की अच्छी शुरुआत न होने के बौजूद वापसी का मौका होता है। आईपीएल में, हर टीम को अपनी खामियों का दूर करने और जीत के रास्ते पर वापस आने के लिए पर्याप्त मौके मिलते हैं। लेकिन, किसी भी खेल में, जीतने की निरंतरता एक ऐसी चीज है जिसे दरकिनार नहीं किया जा सकता है।

हालांकि शुरुआती हार परेशान नहीं करती है, लेकिन शुरुआती जीत बहुत अधिक फायदा देती है। जो भी टीम, अपने अभियान की शुरुआत जीत के साथ करती है उनके पास नॉकआउट मैचों के करीब आने से पहले अपनी सर्वश्रेष्ठ एकादश को अंतिम रूप देने का मौका ज्यादा होता है और वो अपने अनुसार प्रयोग कर सकते है।

आईपीएल के ग्यारह साल के इतिहास में, सीजन का पहला मैच जीतने वाली टीम ने तीन बार खिताब जीता। आइए नजर डालते हैं उन तीन उदाहरणों पर:


# 1 चेन्नई सुपर किंग्स, आईपीएल 2011

चेन्नई सुपर किंग्स 2011

2011 सीज़न के शुरुआती मैच में चेन्नई में चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स का सामना हुआ, और दर्शकों को रोमांचक मुकाबले में 2 रन से हराया, और टिम साउथी ने आखिरी ओवर में नौ रन का बचाव किया। टूर्नामेंट में आगे बढ़ते हुए, चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने अच्छे प्रदर्शन को विशेष रूप से घर पर बनाये रखा, क्योंकि उस सीज़न चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल में सभी घरेलू मैच जीतने वाली पहली टीम बनी थी।

लीग स्टेज के बाद, चेन्नई सुपर किंग्स रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बाद, अंक तालिका में दूसरे स्थान पर रही। सीएसके ने पहले क्वालीफायर में आरसीबी को हराया और आरसीबी द्वारा दूसरे क्वालिफायर में मुंबई इंडियंस को हराने के बाद फिर से फाइनल में उनसे सामना हुआ।

फाइनल में, सीएसके का प्रदर्शन आरसीबी से बेहतर रहा और उन्होंने 58 रनों के बड़े अंतर से मैच जीता था। 205 के कुल स्कोर का पीछा करते हुए, आरसीबी कभी भी मैच में बना हुआ नही दिखा। मुरली विजय 52 गेंदों में 95 रनों की तूफानी पारी के साथ मैन ऑफ द मैच रहे।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

# 2 कोलकाता नाइटराइडर्स, आईपीएल 2014

कोलकाता नाईट राइडर्स 2014

2014 के सीज़न के पहले भाग को भारत में आम चुनावों के कारण संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित कराया गया था। गंभीर के नेतृत्व वाली कोलकाता नाइटराइडर्स का मुकाबला अबू धाबी में शुरुआती मैच में रोहित शर्मा की अगुवाई वाली मुंबई इंडियंस के साथ हुआ था। पहले बल्लेबाजी करते हुए, केकेआर ने 163/5 रन बनाए जिसमें कि जैक्स कैलिस और मनीष पांडे ने क्रमशः 72 और 64 का योगदान दिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई इंडियंस सुनील नारेन के खिलाफ टिक नहीं सकी क्योंकि वेस्टइंडीज के इस स्पिनर ने अपने चार विकेट के शानदार स्पेल 4-2-20-4 के साथ मात दी। केकेआर ने 41 रनों से मैच जीतकर टूर्नामेंट की शुरुआत जीत के साथ की।

पहले मैच के बाद, केकेआर लय छोड़ती दिखी क्योंकि वे अपने अगले छह मैचों में से केवल एक ही जीत सकीं। लेकिन केकेआर ने बाद में मिले मौकों को भुनाया और फिर कोलकाता की फ्रेंचाइजी के लिए एक करिश्माई दौर शुरू हुआ क्योंकि उन्होंने इसके बाद लगातार सात मैच जीते थे। केकेआर के इस अविश्वसनीय प्रदर्शन ने लीग चरण के पूरा होने के बाद उन्हें अंक तालिका में दूसरा स्थान हासिल करने में मदद की।

केकेआर ने फाइनल में बर्थ को सील करने के लिए पहले क्वालीफायर में किंग्स इलेवन पंजाब को हराया और खिताब हासिल करने के लिए फिर से उनका सामना किया, क्योंकि किंग्स इलेवन पंजाब ने दूसरे क्वालीफायर में चेन्नई सुपर किंग्स हरा दिया था। खिताबी मुकाबले में, कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को आखिरी ओवर में हराया। 50 गेंदों में 94 रनों की शानदार पारी के दम पर मनीष पांडे को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।

# 3 चेन्नई सुपर किंग्स, आईपीएल 2018

चेन्नई सुपर किंग्स 2018

दो साल के निलंबन के बाद आईपीएल में वापसी करते हुए, चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने प्रशंसकों के उत्साह पर खरे उतरते हुए धोनी के नेतृत्व वाली अनुभवी टीम ने अपने तीसरे आईपीएल खिताब पर कब्जा कर लिया।

सीएसके ने 2018 सीज़न के शुरुआती मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत की। एक समय जो मैच पूरी तरह से मुंबई इंडियंस की झोली में जाता दिख रहा था, उसमें ड्वेन ब्रावो की 30-गेंद पर 64 की पारी ने सीएसके के लिए एक शानदार जीत हासिल की।

लीग-चरण में, सीएसके ने 14 में से 9 मैच जीते और तालिका में दूसरे स्थान पर रही। पहला क्वालीफायर सीएसके और एसआरएच के बीच खेला गया, जहां सीएसके ने वानखेड़े स्टेडियम में एक रोमांचक मुकाबले में जीत हासिल की थी। यही दोनों टीमें फाइनल में एक बार फिर से मिलीं क्यूंकि एसआरएच ने दूसरे क्वालीफायर में केकेआर को हराया था। फाइनल में शेन वॉटसन की 57 गेंदों में 117 रन की तूफानी पारी के चलते एक बार फिर सीएसके ने प्रतिष्ठित ट्रॉफी हासिल करते हुए, तीन बार यह खिताब जीतने का सम्मान भी हासिल किया।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...