इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन के लिए 27-28 जनवरी तक बेंगलुरु में होगी नीलामी

इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन के लिए नीलामी की तारीख सामने आ गई है। 27-28 जनवरी तक बेंगलुरु में आईपीएल के लिए खिलाड़ियों की बोली लगेगी। इस बात की जानकारी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी। अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि ज्यादातर कैप्ड खिलाड़ी नीलामी के लिए उपलब्ध रहेंगे, इसलिए इस बार नीलामी काफी बड़ी होगी। उन्होंने कहा कि 27-28 जनवरी तक बेंगलुरु में इसका आयोजन होगा। अधिकारी ने बेंगलुरु को नीलामी के लिए चुने जाने जाने का कारण बताते हुए कहा कि पहले के सारे ऑक्शन की मेजबानी बेंगलुरु ही कर चुका है, इसलिए फ्रेंचाइजी चाहते थे कि यहीं पर खिलाड़ियों की बोली लगे। इस बार की नीलामी में सभी टीम मालिकों का बजट 66 करोड़ से बढ़ाकर 80 करोड़ कर दिया गया है। इससे पहले दो टीम मालिकों ने इंग्लैंड में नीलामी कराए जाने का सुझाव दिया था, हालांकि बाकी टीम मालिकों ने इसे नकार दिया। उनका मानना था कि इस बार की नीलामी काफी बड़ी होने वाली है और काफी सारे खिलाड़ियों के लिए बोली लगेगी इसलिए इसे विदेश में कराया जाए। हालांकि ज्यादातर फ्रेंजाइजी ने भारत में ही नीलामी का समर्थन किया था। वहीं इंडियन प्रीमियर लीग की गवर्निंग काउंसिल की बैठक में ये भी फैसला हुआ था कि एक टीम 5 खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती है। इसमें प्री-प्लेयर ऑक्शन और राइट टू मैच के तहत खिलाड़ी रिटेन होंगे। इस बैठक में खिलाड़ियों को रिटेन करने को लेकर कहा गया कि कोई भी टीम रिटेन पॉलिसी और राइट टू मैच के अनुसार ज्यादा से ज्यादा 5 खिलाड़ियों को अपनी टीम में रख सकती है और साथ ही दो साल बाद वापसी कर रही चेन्नई और राजस्थान की टीमों को पुणे और गुजरात टीम में से साल 2015 में खेलने वाले अपने पुराने ख़िलाड़ी ही रिटेन करने होंगे। अगर तीन खिलाड़ी रिटेन होंगे, तो उनमें से पहले खिलाड़ी को 15 करोड़, दूसरे को 11 करोड़ और तीसरे को 7 करोड़ रूपये की राशि मिलेगी। दो खिलाड़ियों को ही रिटेन करने पर पहले खिलाड़ी को 12.5 करोड़ और दूसरे को 8.5 करोड़ रूपये की राशि मिलेगी। एक ही खिलाड़ी को यथावत रखे जाने पर अधिकतम 12.5 करोड़ रूपये ही मिल पाएंगे। राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपरकिंग्स की वापसी के बाद 2015 में इन टीमों से खेले गए खिलाड़ी रिटेन की योग्यता में होंगे। महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना को चेन्नई में रिटेन कर रखा जा सकेगा। बेन स्टोक्स और एलेक्स हेल्स जैसे खिलाड़ियों को वापस नीलामी की प्रकिया से गुजरना होगा। 2018 के आईपीएल सीजन में सैलरी कैप 80 करोड़ रूपये होगा जो 2019 में बढ़कर 82 करोड़ रूपये और 2020 में और बढ़ते हुए 85 करोड़ रूपये तक पहुँच जाएगा। इस सीजन के ब्रॉडकास्टिंग राइट्स स्टार स्पोर्ट्स ने 16347.5 करोड़ रुपए में खरीदे हैं। आईपीएल की नीलामी में इस बार कई बड़े खिलाड़ियों की बोली बड़े दामों पर लगना लाजमी है, जिसमें बेन स्टोक्स और एलेक्स हेल्स जैसे ताबड़तोड़ बल्लेबाज मुख्य रूप से शामिल हैं। आईपीएल का अगला संस्करण अप्रैल और मई के बीच खेला जाएगा।

वहीं इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन के शाम के मैचों को एक घंटा पहले कराने का सुझाव भी आया था। अभी आईपीएल के शाम के मैच 8 बजे से शुरु होते हैं लेकिन इसको 7 बजे से ही शुरु कराने का सझाव आया था। अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो इस बार के सीजन से आईपीएल के शाम के मैच 8 की बजाय 7 बजे से शुरु होंगे। एक घंटा पहले मैच शुरु कराने का कारण ये है कि 8 बजे से शुरु होने वाले मैच लगभग आधी रात तक खिंच जाते हैं। इससे स्टेडियम में आए दर्शकों और घर में टीवी पर मैच देखने वाले फैंस को भी दिक्कत होती है। हालांकि अगर रात के मैच 7 बजे से शुरु होते हैं तो दिन के मैच को 4 बजे की बजाय 3 बजे से ही शुरु करना पड़ेगा।
Edited by Staff Editor