Create

3 खिलाड़ी जिनका प्रदर्शन कोलकाता नाइटराइडर्स टीम को छोड़ने के बाद शानदार रहा है

Enter caption

कोलकाता नाइट राइडर्स आईपीएल की सफलतम टीमों में से एक है। यह टीम 2 बार आईपीएल का खिताब जीत चुकी है जबकि 6 बार प्लेऑफ में पहुंच चुकी है। आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स तीसरी सबसे सफल टीम है। जहां एक ओर आईपीएल जीतने के लिए विश्व स्तरीय दिग्गज खिलाड़ियों की जरूरत होती है वहीं कोलकाता नाइट राइडर्स के पास इसकी कमी है फिर भी यह टीम अच्छा प्रदर्शन करती है।

दो बार की आईपीएल चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स का आईपीएल इतिहास में कुछ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों द्वारा प्रतिनिधित्व किया जा चुका है। हालांकि उन खिलाड़ियों में से कई ने फ्रैंचाइज़ी की सफलता में अपना बेहतर योगदान दिया है, वहीं कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जो टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके।

कोलकाता नाइट राइडर्स फ्रेंचाइजी ने कई ऐसे खिलाड़ियों को रिलीज कर दिया जो बाद में दूसरे फ्रेंचाइजी के लिए अच्छा प्रदर्शन करते गए और अपनी टीम को जीत दिलाते गए। आज हम ऐसे ही 3 खिलाड़ियों के बारे में बात करने जा रहे हैं जिनकी कोलकाता नाइट राइडर्स टीम छोड़ने के बाद किस्मत चमकी।

#3. क्रिस गेल:

Chris Gayle KKR

क्रिस गेल विश्व के सबसे बेहतरीन टी20 खिलाड़ियों में से एक हैं। वे आईपीएल इतिहास में सबसे अधिक शतक लगाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने आईपीएल इतिहास में कुल 6 शतक लगाए हैं जिसमें से 5 शतक उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से खेलते हुए बनाए थे जबकि 1 शतक उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलते हुए लगाए। वे किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलते हुए इस सीजन भी 99* रन बना चुके हैं।

गेल ने कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर से आईपीएल में 16 मैच खेलते हुए खेलते हुए उन्होंने 30.47 की औसत से 463 रन बनाए हैं जिसमें 2 अर्धशतक शामिल है। जबकि उनका सर्वाधिक स्कोर 88 है। जबकि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से 95 मैच खेलते हुए गेल ने 43.33 की औसत से 3163 रन बनाए हैं जिसमें 5 शतक और 19 अर्धशतक शामिल है। इस दौरान उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 175* है। इसके अलावा क्रिस गेल ने किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलते हुए 19 मैचों में 45.0 की औसत से 720 रन बनाए हैं। जिसमें एक शतक और 6 अर्धशतक शामिल है। जबकि उनका सर्वाधिक 104 रन है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2. ब्रेंडन मैकलम:

Brendon Mccullum KKR

विश्व के सर्वश्रेष्ठ टी20 बल्लेबाजों में शुमार न्यूजीलैंड के ब्रेंडन मैकलम ने आईपीएल 2008 से 2010 तक और 2012 से 2013 तक कोलकाता नाइट राइडर्स टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। उन्होंने आईपीएल इतिहास के पहले ही मैच (18 अप्रैल 2008) में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 158* रनों की पारी खेली थी। लेकिन इसके बाद वो अगले 3 मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए जिसके कारण उन्हें पूरे सीजन बेंच पर बैठना पड़ा। जबकि साल 2009 में वे 13 मैचों में मात्र 258 रन ही बना सके और 2010 के सीजन में 5 मैचों मात्र 114 रन ही बना सके। इसके बाद कोलकाता नाइट राइडर्स ने उन्हें रिलीज कर दिया।

2011 ब्रेंडन मैकलम में वे कोच्चि टस्कर्स केरल टीम में शामिल हो गए। उन्होंने उस सीजन 13 मैचों में 27.46 की औसत से 357 रन बनाए। जबकि 2012 और 2013 में वे एक बार फिर कोलकाता टीम का हिस्सा बने। इन दो सीजन में ब्रेंडन मैकलम ने कुल मिलाकर 13 मैच खेले जिसमें उन्होंने मात्र 295 रन बनाए।

लेकिन कोलकाता नाइट राइडर्स छोड़ने के बाद जब ब्रेंडन मैकलम साल 2014 और 2015 में चैन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा रहे तो वो दो साल उनके आईपीएल करियर का सबसे अच्छा सीजन गुजरा। उन्होंने दोनों सीजन में 400 रन से अधिक रन बनाए। जबकि इसी दौरान उन्होंने 1 शतक भी लगाया। मैकलम आईपीएल में इसके अलावा गुजरात लायंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का भी हिस्सा रहे हैं।

#1. सूर्यकुमार यादव:

Suryakumar Yadav KK

सूर्यकुमार यादव ने अपने आईपीएल करियर की शुरुआत मुंबई इंडियंस की ओर से किया था। वे 2014 से 2017 तक कोलकाता नाइट राइडर्स का भी प्रतिनिधित्व कर चुके हैं साथ ही वे कोलकाता टीम के उपकप्तान भी रह चुके हैं। लेकिन उन 4 सालों में वे मध्यक्रम और निचले मध्यक्रम बल्लेबाज की भूमिका निभाते थे। सूर्यकुमार यादव बड़े-बड़े हिट लगाने में माहिर हैं। दरअसल कोलकाता नाइट राइडर्स टीम मैनेजमेंट ने उन्हें फिनिशर की भूमिका निभाने के लिए रखा था जिस भूमिका को उन्होंने कई मैचों में बखूबी निभाया। लेकिन वे कोलकाता की ओर से खेलते हुए कई मैचों में अच्छे फॉर्म में नहीं दिखे। वे कोलकाता का प्रतिनिधित्व करते हुए 54 मैचों में 22.52 की औसत से 608 रन ही बना सके। जिसमें मात्र 1 अर्धशतक शामिल था।

2018 की नीलामी में मुम्बई इंडियंस ने 3.2 करोड़ रुपये देकर उन्हें खरीद लिया जिसके बाद उनकी किस्मत चमक उठी। वे उस सीजन सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाते थे उन्होंने 14 मैच खेलते हुए 36.57 की औसत से 512 रन बनाए थे जिसमें 4 अर्धशतक शामिल था। जबकि इस सीजन अब तक 9 मैच खेलते हुए 23.22 की औसत से 209 रन बना चुके हैं जिसमें एक अर्धशतक शामिल है। अब सूर्यकुमार यादव मुंबई की ओर से तीसरे स्थान पर बल्लेबाजी करते हैं।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment