मेरे पिता को जावेद मियांदाद का कमेंट पसंद नहीं आया था और वे उनसे मिलना चाहते थे - इरफान पठान

इरफान पठान
इरफान पठान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान ने 2004 के पाकिस्तान दौरे को लेकर एक अहम खुलासा किया है। दरअसल उस समय पाकिस्तान टीम के कोच जावेद मियांदाद थे और उन्होंने इरफान पठान के बारे में कहा था कि उन जैसे गेंदबाज पाकिस्तानी की गलियों में मिल जाते हैं। पठान ने खुलासा किया है कि उनके पिता को ये बयान पसंद नहीं आया था और इसीलिए टेस्ट सीरीज खत्म होने के बाद वो जावेद मियांदाद से मिलना चाहते थे।

स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड शो में इरफान पठान ने इस वाकये का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि मुझे अभी भी याद है कि जावेद मियांदाद ने कहा था कि इरफान पठान जैसे गेंदबाज पाकिस्तान की हर गली में मौजूद हैं। मेरे पिता ने जब वो खबर पढ़ी तो उनके ये बात पसंद नहीं आई। मुझे याद है कि आखिरी मैच के लिए वो पाकिस्तान आए थे। उन्होंने मुझसे आकर कहा कि वो पाकिस्तान के ड्रेसिंग रूम में जाना चाहते हैं और जावेद मियांदाद से मिलना चाहते हैं। मैंने उन्हें वहां जाने के लिए मना किया। लेकिन वो वहां चले गए और जैसे ही मियांदाद ने मेरे पिता को देखा वो खड़े हो गए और कहा कि मैंने आपके बेटे के बारे में कुछ नहीं कहा है। मेरे पिता ने मुस्कुराकर कहा कि मैं यहां आपसे उस बारे में बात करने नहीं आया हूं। मैं आपसे मिलना चाहता था, क्योंकि आप एक शानदार खिलाड़ी थे।

ये भी पढ़ें: विराट कोहली और रोहित शर्मा की कप्तानी पर कोरी एंडरसन का बड़ा बयान

आपको बता दें कि साल 1999 कारगिल वॉर के बाद पहली बार भारतीय टीम ने पाकिस्तान का दौरा किया था। भारत ने उस दौरे पर टेस्ट सीरीज 2-1 से और वनडे सीरीज 3-2 से अपने नाम की थी। इरफान पठान ने उस दौरे पर जबरदस्त प्रदर्शन किया था।

Quick Links

App download animated image Get the free App now