इंग्लैंड की पूर्व खिलाड़ी ने कैसे बनाई पुरुषों से हावी कमेंट्री बॉक्स में जगह, शेन वॉर्न को श्रेय देते हुए कही बड़ी बात 

England v India - 2nd Vitality IT20
ईसा गुहा साल 2018 से नियमित रूप से कमेंट्री कर रही हैं

इंग्‍लैंड (England Women Cricket team) की पूर्व महिला तेज गेंदबाज और मौजूदा कमेंटेटर ईसा गुहा (Isa Guha) ने दिवंगत शेन वॉर्न (Shane Warne) को धन्‍यवाद दिया है, जिनकी मदद से वो पुरुषों से हावी कमेंट्री बॉक्‍स में जगह बनाने में कामयाब रहीं। गुहा 2018 से नियमित रूप से कमेंट्री कर रही हैं और उन्‍होंने हाल ही में बताया कि शुरुआत में उम्‍मीदों पर खरा उतरने में कितना संघर्ष करना पड़ा।

गुहा ने न्‍यूज कॉर्प से बातचीत में कहा 'शेन वॉर्न का मुझ पर बड़ा असर रहा। ऐसा नहीं कि अन्‍य दिग्‍गज क्रिकेटरों का नहीं, लेकिन मेरे लिए, विशेषकर वॉर्न का प्रभाव रहा। उन्‍होंने मुझे बहुत सम्‍मान दिया और जल्‍द ही मैंने महसूस किया कि हर किसी से इसी प्रकार का सम्‍मान मिल रहा है। सीधी सी बात है कि ऐसे लोग थे, जो नहीं समझ रहे थे कि आप यहां क्‍यों हैं या फिर आपको वो देखना चाहें।'

फॉक्‍स स्‍पोर्ट्स से बातचीत करते हुए गुहा ने कहा, 'कमेंट्री बॉक्‍स में आने के बाद मुझे बहुत अच्‍छा लगा कि शेन वॉर्न जैसे दिग्‍गज के साथ बात कर रही हूं। उन्‍होंने मुझे बहुत सम्‍मान दिया। उनमें हमेशा से ईमानदारी और साधारण व्यवहारिकता थी और इससे मुझे कमेंट्री बॉक्‍स में काफी विश्‍वास मिला।'

पता हो कि वॉर्न का पिछले साल 4 मार्च को निधन हो गया था। बहरहाल, ईसा गुहा ने साथ ही बताया कि वो सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्‍पणी का किस तरह सामना करती हैं। उन्‍होंने कहा, 'मैं अच्‍छी आलोचना संभाल सकती हूं, लेकिन कुछ लोग बहुत नीचे जाकर टिप्‍पणी करते हैं। महिला खिलाड़ी का कमेंट्री बॉक्‍स में होना कुछ लोगों को रास नहीं आता और वो उसकी बहुत गलत तरह से आलोचना करते हैं।'

37 साल की ईसा गुहा ने 8 टेस्‍ट, 83 वनडे और 22 टी20 इंटरनेशनल मैचों में इंग्‍लैंड महिला क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्‍व किया। इस दौरान उन्‍होंने टेस्‍ट में 29, वनडे में 101 और टी20 इंटरनेशनल मैचों में 18 विकेट चटकाए।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now