Create
Notifications

महेंद्र सिंह धोनी अपने साथ स्टारडम को लेकर नहीं चलते हैं : इशांक जग्गी

Abhishek Tiwary
visit

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी फ़िलहाल झारखंड टीम की विजय हजारे ट्रॉफी में नेतृत्व करने की तैयारी में जुटे हैं। झारखंड की टीम शनिवार को कोलकाता के ईडन गार्डन्स पर कर्नाटक के खिलाफ मैच खेलेगी। मैच से पूर्व 35 वर्षीय धोनी को टीम के साथ मिश्रित अभ्यास सत्र में शामिल होते देखा गया। उन्होंने फुटबॉल खेला, इशान किशन को ऑफ़स्पिन गेंदबाजी की और फिर वरुण आरोन व विकास सिंह जैसे तेज गेंदबाजों के खिलाफ बल्लेबाजी का अभ्यास किया। पूर्व भारतीय कप्तान के टीम पर प्रभाव के बारे में पत्रकारों से बातचीत करते हुए इशांक जग्गी ने कहा कि धोनी अपने स्टारडम को साथ लेकर नहीं चलते हैं और खुलकर अन्य लोगों से आइडियाज साझा करते हैं। यह भी पढ़ें : महेंद्र सिंह धोनी ने आईपीएल की टीम राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की कप्तानी से इस्तीफा दिया जग्गी ने कहा, 'धोनी हमारे कमरे में आकर अपने आइडियाज साझा करते हैं। माही भाई अपने साथ स्टारडम लेकर नहीं चलते हैं। उन्होंने मेरी काफी मदद की। पहले मेरा खेल काफी रक्षात्मक था, लेकिन उन्होंने मुझे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सफल होने के लिए अपनी बल्लेबाजी स्टाइल बदलने की बात कही।' हालांकि, विजय हजारे ट्रॉफी महेंद्र सिंह धोनी के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि जून में इंग्लैंड में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी से पहले यह एकमात्र 50 ओवर का टूर्नामेंट है। उल्लेखनीय है कि पिछले सप्ताह आईपीएल टीम राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की कप्तानी छोड़ने वाले धोनी सिर्फ झारखंड का नेतृत्व करते दिखेंगे। जनवरी की शुरुआत में उन्होंने भारतीय टीम की सीमित ओवरों की कप्तानी से इस्तीफा दिया था। धोनी विश्व के एकमात्र कप्तान है, जिन्होंने आईसीसी की तीनों प्रमुख ट्रॉफियों जीती हो। यह भी पढ़ें : महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी के हटने की वजह सामने आई यह पहला मौका नहीं है जब धोनी को नेट्स पर गेंदबाजी करते देखा गया हो। इस वीडियो में आप देखेंगे कि किस तरह वह भारतीय टीम के नेट्स सत्र में भी सक्रिय रहते थे। इसके अलावा वह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में भी गेंदबाजी कर चुके हैं।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now