मोंटी पानेसर ने कहा सचिन तेंदुलकर को आउट करना नहीं था आसान, सहवाग को बताया विस्फोटक 

Image: Monty Panesar
Image: Monty Panesar

इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर मोंटी पानेसर ने श्रीलंका के कुमार संगकारा, महेला जयवर्धने और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर को अपने दौर का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज बताया है. इतना ही नहीं इस खिलाड़ी ने टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग को अपने दौर का सबसे आक्रामक बल्लेबाज भी बताया है। जबकि टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज राहुल द्रविड़ के बारे में उन्होंने कहा कि वो दीवार की तरह थे।

मोंटी पानेसर इंग्लैंड के लिए 50 टेस्ट मैच खेल चुके हैं। इस खिलाड़ी ने अपना पहला टेस्ट मुकाबला साल 2006 में नागपुर में भारतीय टीम के खिलाफ खेला था और इस गेंदबाज ने अपने पहले ही मैच में सचिन तेंदुलकर को पवेलियन की राह दिखाई थी। न्यूज एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए इस खिलाड़ी ने कहा खि सचिन जब भी टिक जाते थे तो बड़ी पारी खेलने में कामयाब हो जाते थे, लेकिन हर बल्लेबाज की तरह उनकी भी कमजोरी थी। क्रीज पर जमने के बाद हालांकि वह अलग ही रंग में आ जाते थे।

ये भी पढ़ें: सुनील गावस्कर ने दिया आइडिया, ऑस्ट्रेलिया और भारत करे टी20 विश्व कप के मेजबानी की अदला बदली

मोंटी पानेसर ने सचिन तेंदुलकर को टेस्ट मैच में 11 बार पवेलियन की राह दिखाई लेकिन इस खिलाड़ी ने तेंदुलकर के बारे में कहा कि उन्हें आउट करना कठिन था क्योंकि वो किस गेंद पर कौन सा शॉट खेलने वाले हैं इसके बारे में पता नहीं चलता था। उन्होंने राहुल द्रविड़ के बारे में कहा,'द्रविड़ भी महान बल्लेबाज थे और इसलिए उन्हें दीवार भी कहते हैं। वह बल्लेबाजी करते थे तो लगता था कि उनका बल्ला दूसरों से चौड़ा है क्योंकि वह इतनी देर टिककर खेल जाते थे। सहवाग अपने समय के सबसे विध्वंसक बल्लेबाज थे।'

गौरतलब, है कि इन दिनों कोरोना वायरस के कारण क्रिकेटर्स भी अपने-अपने घरों में कैद हैं। क्रिकेट का कोई भी टूर्नामेंट नहीं चल रहा है। इसलिए ज्यादातर खिलाड़ी अपना समय सोशल मीडिया पर बिता रहे हैं। वही लुटोन में अपने घर में रह रहे मोंटी पानेसर ने कोरोना वायरस के कारण चैरिटी के लिए पैसे जुटाने की ऑनलाइन मुहिम भी शुरू की है।

Quick Links

App download animated image Get the free App now