Create
Notifications

जेम्स एंडरसन ने रोटेशन प्रणाली का समर्थन किया

ANALYST
Modified 23 Feb 2021
न्यूज़

जेम्स एंडरसन (James Anderson) ने इंग्लैंड टीम की रोटेशन प्रणाली का बचाव किया है। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज ने सोमवार को कहा कि बड़ी तस्वीर को देखना महत्वपूर्ण है और इस बात पर विचार करना चाहिए कि 2021 में सीनियर राष्ट्रीय टीम कितने मैच खेलने जा रही है। एंडरसन ने रोटेशन प्रणाली का समर्थन करते हुए बड़े परिदृश्य में इसकी उपयोगिता देखने के बारे में कहा है।

एंडरसन ने कहा, "आपको कोशिश करने और बड़ी तस्वीर देखनी चाहिए। विचार यह था कि अगर मैं चूक गया, तो इससे मुझे फिट होने और गुलाबी गेंद के टेस्ट के लिए फायरिंग करने का सबसे अच्छा मौका मिलेगा। मैं अच्छा और ताजा महसूस कर रहा हूं और अगर फिर से टीम में बुलाया जाता है तो मैं जाने के लिए तैयार हूँ। जितना क्रिकेट हमें खेलने को मिलेगा, उसके लिए मैं इसे बड़ी तस्वीर में देख सकता हूँ।

जेम्स एंडरसन पहले टेस्ट में खेले थे

गौरतलब है कि जेम्स एंडरसन चेन्नई में भारतीय टीम के खिलाफ हुए पहले टेस्ट मैच में खेले थे। एंडरसन ने दूसरी पारी में बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 3 विकेट चटकाए थे। इसके बाद अगले मुकाबले में वह टीम का हिस्सा नहीं थे और रोटेशन प्रणाली के तहत स्टुअर्ट ब्रॉड को उनकी जगह शामिल किया गया। अहमदाबाद में होने वाले पिंक बॉल टेस्ट मैच के लिए जेम्स एंडरसन को एक बार फिर से खेलते हुए देखा जा सकता है।

माना जा रहा है कि पिंक बॉल टेस्ट मैच में तेज गेंदबाजों के लिए थोड़ी मदद हो सकती है, ऐसे में इंग्लिश टीम अपने सबसे अनुभवी गेंदबाज के साथ मैदान पर जरुर जाना चाहेगी। भारत और इंग्लैंड की टीमें इस समय एक-एक मैच जीतकर सीरीज में बराबरी पर है। वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में जाने के लिए भारतीय टीम को बचे हुए दो मैचों में से एक मुकाबला जीतना होगा।

Published 23 Feb 2021
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now