Create

कपिल देव ने विराट कोहली और रवि शास्त्री की जोड़ी का रिपोर्ट कार्ड साझा करते हुए बताया कि किस चीज की कमी रही 

विराट कोहली और रवि शास्त्री की जोड़ी आखिरी बार टी20 वर्ल्ड कप में नजर आई
विराट कोहली और रवि शास्त्री की जोड़ी आखिरी बार टी20 वर्ल्ड कप में नजर आई
Prashant Kumar

टी20 वर्ल्ड कप 2021 के ख़त्म होने के साथ ही भारतीय क्रिकेट में विराट कोहली (Virat Kohli)-रवि शास्त्री (Ravi Shastri) युग का अंत हो गया है। शास्त्री की जगह नए हेड कोच के रूप में राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) आये हैं, वहीं टी20 में कप्तान के रूप में विराट कोहली की रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने ले ली है। कोहली और शास्त्री की जोड़ी ने लगभग चार साल तक साथ में कार्य किया और इस दौरान भारतीय क्रिकेट ने अभूतपूर्व सफलता हासिल की। इन दोनों के काम को देखते हुए पूर्व दिग्गज भारतीय ऑलराउंडर कपिल देव (Kapil Dev) ने इस जोड़ी का रिपोर्ट कार्ड साझा किया है।

विराट कोहली और रवि शास्त्री ने भारतीय टीम को टेस्ट प्रारूप में जबरदस्त सफलता हासिल करवाई। इनके कार्यकाल में ही टीम ने ऑस्ट्रेलिया में दो बार सीरीज जीती तथा इंग्लैंड की सरजमीं पर भी जबरदस्त प्रदर्शन किया। इसके अलावा टीम ने सफ़ेद गेंद की क्रिकेट में कई यादगार सीरीज जीतीं। हालांकि यह जोड़ी आईसीसी का कोई भी टूर्नामेंट नहीं जीत पाई।

रवि शास्त्री और विराट कोहली ने शानदार कार्य किया है - कपिल देव

भारत के वर्ल्ड कप विजेता कप्तान कपिल देव ने कहा कि दोनों ने भारतीय टीम के लिए सराहनीय काम किया है, हालांकि आईसीसी ट्रॉफी ना जीत पाना ही इनके कार्यकाल की कमी रही। कपिल ने अनकट को दिए इंटरव्यू में कहा,

मुझे लगता है कि दोनों ने बहुत अच्छा काम किया है। मैं समझता हूं कि वे भारत को एक बड़ी ट्रॉफी नहीं दिला सके लेकिन अगर हम पिछले पांच सालों को देखें, जब से कोहली ने पदभार संभाला है, किसी चीज की कमी नहीं रही। आईसीसी ट्रॉफी की सबसे बड़ी कमी के अलावा ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड में भारत ने जीत हासिल की है... उन्होंने जहां भी यात्रा की है, उन्होंने दूसरी टीम को मात दी है।
वर्ल्ड कप नॉकआउट में पहुंचना भी बहुत बड़ी बात है. मुझे लगता है कि वेस्टइंडीज में 2007 वर्ल्ड कप के बाद, यह टी20 वर्ल्ड कप है जहां ऐसा लगा कि भारत निराशाजनक था। अगर वे टॉप 4 में पहुंचते और फिर हार जाते, तो यह समझ में आता है। लेकिन अगर आप टॉप 4 में नहीं पहुँचते हैं तो आलोचना होगी।

दिग्गज ऑलरांडर ने कहा कि आईसीसी खिताब की कमी के कारण, वह 100 में से 10 प्रतिशत अंक काट लेंगे, लेकिन उसके अलावा भारत ने शानदार खेला है। अंत में उन्होंने कहा,

अगर आप इसे ट्रॉफी के नजरिए से देखें तो यह बिल्कुल अलग बात है। लेकिन अगर आप उनके क्रिकेट को देखें, जिस ब्रांड को उन्होंने पिछले पांच वर्षों में खेला है, तो मैं उन्हें 100 में से 90 प्रतिशत अंक दूंगा, और आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीतने पर 10 प्रतिशत अंक काट दूंगा।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...