Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

Hindi Cricket News: विराट कोहली के जज्बे और एम एस धोनी की धैर्यता से सीखना चाहता हूं- क्रुणाल पांड्या

Richa Gupta
ANALYST
न्यूज़
23 Jul 2019, 15:11 IST

क्रुणाल पांड्या
क्रुणाल पांड्या

वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम की घोषणा कर दी गई है। इसमें क्रुणाल पांड्या को चयनकर्ताओं ने मौका दिया है। ऑलराउंड क्रुणाल पांड्या ने कहा कि मैं कप्तान कोहली से जीत का जज्बा और महेंद्र सिंह धोनी से धैर्य रखना सीखना चाहता हूं। बड़ौदा की तरफ से खेलने वाले क्रुणाल ने पिछले साल नवंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 खेलकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था। उन्होंने अब तक 11 मैचों में 11 विकेट झटकने के साथ पांच पारियों में 23 के औसत के साथ 70 रन बनाए हैं।

क्रुणाल ने कहा कि मैं कप्तान विराट कोहली से सीखना चाहता हूं कि लगातार अच्छा प्रदर्शन करने की भूख कैसे बरकरार रखी जाती है। वह क्रिकेट के हर प्रारूप में लगातार प्रदर्शन करते रहते हैं। वह हर मैच में शून्य से शुरू करते हैं और रन बनाकर टीम को जीत हासिल करवाते हैं। महेंद्र सिंह धोनी के बारे में क्रुणाल ने कहा कि उनके पास धैर्य और परिस्थितियों के मुताबिक खेलने की क्षमता है। उनकी तरह का फिनिशर आज तक भारतीय इतिहास में कोई नहीं हुआ है। उन्होंने लगातार ऐसा करके दिखाया है। मैं दोनों सीनियर खिलाड़ियों से उनके ये गुर सीखने की कोशिश करूंगा।

उन्होंने कहा कि मैं क्रिकेट में अपनी पहचान का श्रेय इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को देना चाहूंगा। मेरे करियर का टर्निंग प्वाइंट मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलना था। वहां मैं अपनी क्षमता दूसरों के सामने रख पाया। आईपीएल में एक अलग तरह का दबाव होता है लेकिन जब आप कप जीतते हैं तो काफी संतुष्टि मिलती है। क्रुणाल ने आईपीएल के पिछले सत्र में 16 मैचों में 12 विकेट लिए थे और 122 के स्ट्राइक रेट से 183 रन बनाए थे।

भारत ए के वेस्टइंडीज दौरे के दौरान अपने प्रदर्शन से क्रुणाल ने काफी प्रभावित किया। उन्होंने वेस्टइंडीज ए के खिलाफ तीन वनडे मैचों में सात विकेट लिए, जिसमें एक पारी में पांच विकेट भी शामिल हैं। उन्होंने एक मैच में 45 रन की भी पारी खेली। वेस्टइंडी दौरे के बारे में क्रुणाल ने कहा कि इसका मुझे बेसब्री से इंतजार है क्योंकि आगे अभी बहुत क्रिकेट है। मैं गेंद और बल्ले दोनों से लगातार अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं। भारत ए के साथ दौरों पर जाने से बहुत मदद मिलती है। दो-तीन साल से मैं दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और इंग्लैंड तीनों जगह खेल चुका हूं। इसका मुझे फायदा मिला है। ऐसे में जब आप सीनियर टीम के साथ जाते हैं तो उस अनुभव का फायदा मिलता है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...