Create
Notifications

क्रुणाल पांड्या (Krunal Pandya)


ABOUT

Full Nameक्रुणाल हिमांशु पांड्या

BornMarch 24, 1991

Height6 फुट 2 इंच

Nationalityभारतीय

Roleबाएं हाथ के गेंदबाज और बल्लेबाज़

ABOUT

क्रुणाल पांड्या की जीवनी

क्रुणाल पांड्या एक भारतीय क्रिकेटर हैं। उनका जन्म 24 मार्च 1991 को गुजरात के अहमदाबाद में हुआ था। वह एक हरफनमौला खिलाड़ी हैं, जो खेल के छोटे प्रारूप में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी और विकेट लेने की क्षमता के लिए पहचाने जाते हैं।

क्रणाल पांड्या और हार्दिक पांड्या


बैकग्राउंड

6 साल की उम्र में हुई उनकी क्षमता का पता चल गया था। उनके पिता ने 1997-98 में बेहतर क्रिकेट की सुविधाएं देने और प्रशिक्षण के लिए उन्हें वडोदरा भेज दिया था। पांड्या को किरण मोरे की क्रिकेट अकादमी में नामांकित किया गया था।


हालांकि, समस्या तब पैदा हुई, जब उनके पिता को स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हुईं। इससे पैदा हुए वित्तीय संकट ने उन्हें चिंता में डाल दिया। इसके बाद पांड्या ने आसपास के गांवों में स्थानीय टूर्नामेंट खेलने के लिए हर मैच के 500 रुपये लिए। इस वजह से उन्हें विभिन्न आयु वर्ग वालों के साथ क्रिकेट खेलने का मौका मिला।


उन्होंने 4 नवंबर 2018 को टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कोलकाता में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना पहला मैच खेलना था। इसमें उन्होंने नाबाद 21 रन बनाए और एक विकेट झटका था। उन्होंने 16 टी-20 मैचों में 106 रन बनाए और 14 विकेट झटके हैं।


घरेलू मैचों के प्रदर्शन ने किया प्रभावित

क्रुणाल ने मार्च-2013 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में बंगाल के खिलाफ ग्रुप बी के मैच में बड़ौदा के लिए घरेलू टी-20 की शुरुआत की थी। इस मैच में उन्होंने 11 गेंद पर 12 रन बनाए और दो ओवर में बिना कोई विकेट लिए 15 रन दिए थे।


उन्होंने नवंबर 2014 में विजय हजारे ट्रॉफी के वेस्ट जोन मैच में गुजरात के खिलाफ 20 गेंदों पर 28 रनों की ताबड़तोड़ पारी के साथ लिस्ट ए करियर की शुरुआत की।



दो साल बाद अक्टूबर 2016 में पांड्या ने रणजी ट्रॉफी में गुजरात के खिलाफ ग्रुप ए में पहली बार प्रथम श्रेणी में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने 23 रन बनाए और 17 ओवर में दो विकेट लिए।


जुलाई 2017 में प्रिटोरिया में हुई एक त्रिकोणीय वनडे सीरीज में क्रुनाल ने इंडिया ए के लिए डेब्यू दक्षिण अफ्रीका ए के खिलाफ मैच में किया था। इसमें वह शून्य पर आउट हुए थे और उन्होंने कोई विकेट भी नहीं लिया था। उन्होंने तीसरे मैच में जोरदार वापसी करते हुए अफगानिस्तान के खिलाफ 27 गेंद पर 48 रन बनाए और किफायती गेंदबाजी भी की।


अपने दम पर बड़ौदा को सेमीफाइनल में पहुंचाया

पांड्या के ऑलराउंड प्रदर्शन ने बड़ौदा को विजय हजारे ट्रॉफी 2016-17 के सेमीफाइनल में पहुंचने में मदद की। उन्होंने 8 मैचों में 45.75 के औसत से 366 रन बनाए और 25.09 के औसत से 11 विकेट झटके। उनकी 70 रनों की पारी और 32 रन पर तीन विकेट झटकने के योगदान की बदौलत बड़ौदा ने मजबूत कर्नाटक की टीम को पराजित कर दिया था।


2017 के आईपीएल में क्रुणाल ने 135.75 की स्ट्राइक रेट और 34.71 की औसत से 243 रन बनाए। सात ही 6.83 की इकॉनमी रेट के साथ 10 विकेट भी अपनी झोली में डाले।


पांड्या की 38 गेंदों पर 47 रनों की पारी ने फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजायंट को रन से हराने वाली जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था।


चोटों ने किया परेशान

रणजी के अपने पहले मैच में क्वाड्रिसेप्स की मांसपेशियों में इंजरी की वजह से उन्हें 2016-17 के पूरे रणजी सत्र में परेशानी झेलनी पड़ी। इससे पहगले 2015 में भी उनके कंधे में चोट लगी थी।

क्रुणाल पांड्या आईपीएल


मुंबई ने 8.8 करोड़ रुपये में खरीदा था

क्रुणाल बड़ौदा के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं। 2016 में उन्हें मुंबई इंडियंस ने 2.2 करोड़ रुपये में चुना और उनके साथ दो सत्र खेले। मुंबई इंडियंस ने 2018 की आईपीएल नीलामी में क्रुणाल को फिर से 8.8 करोड़ की कीमत पर खरीद लिया। उन्हें आईपीएल इतिहास का सबसे महंगा अनकैप्ड खिलाड़ी बना दिया।

Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now