Create
Notifications

"कभी-कभी मुझे विकेटों के पीछे से एम एस धोनी के गाइडेंस की कमी काफी खलती है"

कुलदीप यादव और एम एस धोनी
कुलदीप यादव और एम एस धोनी
सावन गुप्ता

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने पूर्व कप्तान एम एस धोनी (MS Dhoni) को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि धोनी के संन्यास के बाद उन्हें विकेटों के पीछे से उनके गाइडेंस की कमी काफी खलती है।

एम एस धोनी जब तक टीम इंडिया के लिए खेले तब तक वो दोनों ही स्पिनरों कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को विकेटों के पीछे से काफी अच्छी तरह से गाइड करते थे। इसका ही नतीजा था कि ये दोनों गेंदबाज काफी सफल रहते थे और उन्हें धोनी से काफी मदद मिलती थी। आईपीएल 2019 के बाद कुलदीप यादव का फॉर्म गिरता चला गया और एम एस धोनी ने भी वर्ल्ड कप के बाद कोई मुकाबला नहीं खेला और संन्यास ले लिया।

ये भी पढ़ें: "श्रीलंका दौरे के लिए भारतीय टीम का कप्तान भुवनेश्वर कुमार या शिखर धवन को बनाया जा सकता है"

कुलदीप यादव ने कहा कि उन्हें धोनी के अनुभव की कमी खल रही है

अब कुलदीप यादव को धोनी के गाइडेंस की कमी काफी खल रही है। इंडियन एक्सप्रेस के साथ खास बातचीत में उन्होंने कहा,

कभी-कभी मुझे एम एस धोनी के गाइडेंस की कमी काफी खलती है क्योंकि उनके पास काफी अनुभव था। वो हमें विकेटों के पीछे से गाइड करते रहते थे और लगातार चीजें बताते रहते थे। हमें उनके अनुभव की कमी खल रही है। अब ऋषभ पंत विकेटकीपिंग करते हैं। जितना ज्यादा वो खेलेंगे उतना ज्यादा इनपुट भविष्य में दे पाएंगे। मेरा हमेशा से यही मानना रहा है कि हर गेंदबाज को एक पार्टनर चाहिए होता है जो दूसरे छोर से भी बेहतरीन रिस्पॉन्स करे।"

दरअसल पिछले कुछ समय से कुलदीप यादव का फॉर्म उतना अच्छा नहीं चल रहा है। इसकी वजह ये है कि टीम इंडिया में ऐसे स्पिनर आ गए हैं जो बल्लेबाजी करने में भी सक्षम हैं और इसी वजह से बार-बार कुलदीप यादव को नजरंदाज किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें: "जिम्बाब्वे को टेस्ट मैच नहीं खेलना चाहिए और केवल वनडे और टी20 पर फोकस करना चाहिए"


Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...