भारत ने कोई बेहतरीन प्रदर्शन नहीं किया था, बस किस्मत ने उनका साथ दिया...1983 वर्ल्ड कप को लेकर वेस्टइंडीज के दिग्गज का बयान

1983 वर्ल्ड कप को लेकर चौंकाने वाली प्रतिक्रिया आई
1983 वर्ल्ड कप को लेकर चौंकाने वाली प्रतिक्रिया आई

भारतीय टीम को 1983 वर्ल्ड कप में मिली जीत को लेकर वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज एंडी रॉबर्ट्स ने चौंकाने वाली प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि 1983 के वर्ल्ड कप के दौरान टीम इंडिया का परफॉर्मेंस अच्छा नहीं रहा था, बल्कि किस्मत ने उनका साथ दिया था और इसी वजह से वो वर्ल्ड कप जीत गए थे। एंडी रॉबर्ट्स के मुताबिक वेस्टइंडीज ने केवल दो ही मुकाबले खराब खेले थे और वो दोनों ही भारत के खिलाफ थे।

भारतीय टीम ने 1983 में कपिल देव की अगुवाई में पहली बार वर्ल्ड कप का टाइटल अपने नाम किया था। टीम इंडिया ने फाइनल मुकाबले में वेस्टइंडीज को हराया था। वेस्टइंडीज उस समय दो वर्ल्ड कप लगातार अपने नाम कर चुकी थी और तीसरे के लिए भी प्रबल दावेदार थी। हालांकि फाइनल मैच में उन्हें भारत से अप्रत्याशित हार का सामना करना पड़ा था।

मैं भारतीय टीम से प्रभावित नहीं था - एंडी रॉबर्ट्स

हालांकि एंडी रॉबर्ट्स का मानना है कि भारत के किसी भी खिलाड़ी ने उन्हें फाइनल मैच में प्रभावित नहीं किया था, बल्कि टीम इंडिया किस्मत की वजह से जीती थी। स्पोर्टस्टार पर बातचीत के दौरान उन्होंने कहा,

हम फॉर्म में थे और एक खराब मैच होना ही था। 1983 में भारत के लक ने उनका साथ दिया। हमारी टीम उस वक्त काफी शानदार थी और हम 1983 के वर्ल्ड कप में दो ही मैच हारे और वो दोनों ही मुकाबले भारत के खिलाफ रहे। इसके पांच या छह महीने के बाद हमने भारत को 6-0 से हराया। 180 के आस-पास आउट होने के बाद किस्मत ने भारतीय टीम का साथ दिया। हमारा परफॉर्मेंस बहुत ज्यादा खराब नहीं रहा था और ना ही कोई ओवर कॉन्फिडेंस था। मैं किसी भी भारतीय बल्लेबाज से प्रभावित नहीं हुआ था क्योंकि कोई भी अर्धशतक नहीं लगा पाया था। गेंदबाजों में किसी ने भी पांच विकेट नहीं लिए थे। मैं भारतीय खिलाड़ियों से प्रभावित नहीं था। जब आप टॉप क्वालिटी की पारी खेलते हैं तब कोई प्रभावित होता है और किसी भी भारतीय खिलाड़ी ने ऐसा नहीं किया था।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment