"विराट कोहली को कप्तानी करते हुए और देखना चाहता था," पूर्व भारतीय खिलाड़ी का बयान

विराट कोहली ने अचानक कप्तानी छोड़ने का निर्णय लिया
विराट कोहली ने अचानक कप्तानी छोड़ने का निर्णय लिया

विराट कोहली (Virat kohli) ने भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़कर हैरान करने वाला कार्य किया है। कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज हारने के एक दिन बाद ही कप्तानी से इस्तीफ़ा देने का ऐलान कर दिया। इस बीच भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर मदन लाल (Madan Lal) ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि मैं उनको और कप्तानी करते हुए देखना चाहता था।

एएनआई से बातचीत में मदन लाल ने कहा कि इस तरह के निर्णय व्यक्तिगत होते हैं लेकिन उनकी उपलब्धियां हमेशा उनके साथ रहेंगी। वह सबसे सफल कप्तान हैं और वर्ल्ड में चौथे सबसे सफल कप्तान हैं। जिस तरह से वह कप्तानी कर रहे थे, लग नहीं रहा था कि वह कप्तानी छोड़ देंगे। मैं इस निर्णय से हैरान हुआ हूँ। वह भावनात्मक और ऐसे कप्तान थे जो हमेशा जीतना चाहते थे। जब टीवी पर हम देखते हैं तो ऐसी कप्तानी का लुत्फ़ उठाते हैं और फिर अचानक इस तरह कप्तानी छोड़ने का बम गिरते ही हैरानी होती है।

अब वह बतौर बल्लेबाज टीम के लिए खेलेंगे
अब वह बतौर बल्लेबाज टीम के लिए खेलेंगे

मदन लाल ने कहा कि कोहली ने इस टीम को बनाया है इसलिए मैं उनको और कप्तानी करते हुए देखना चाहता था। हम टेस्ट क्रिकेट में नम्बर एक बन गए। उन्होंने तेज गेंदबाजों की एक मजबूत यूनिट बनाई। आज भारतीय तेज गेंदबाजों को विश्व में जाना जाता है और यह उनकी उपलब्धि के कारण है। जब आप टेस्ट मैच जीतते हैं तो वनडे और टी20 पर भी असर पड़ता है। इस व्यक्ति ने सब कुछ किया है। एक कप्तान के रूप में उन्होंने टीम को मजबूत बनाने के लिए टीम के कमजोर पॉइंट पकड़े। पूरा क्रेडिट विराट कोहली को जाता है।

दक्षिण अफ्रीका में भारतीय टीम ने टेस्ट सीरीज की शुरुआत काफी अच्छी की। पहला टेस्ट मैच जीतने के बाद टीम इंडिया का खराब खेल शुरू हुआ और अगले दो मैचों में हार के साथ उन्हें सीरीज भी गंवानी पड़ी।

Quick Links

Edited by निरंजन