Create

मार्क वुड ने IPL में भाग लेने को लेकर दी बड़ी प्रतिक्रिया 

मार्क वुड ने ऑक्शन में अपना नाम दर्ज करवाया है
मार्क वुड ने ऑक्शन में अपना नाम दर्ज करवाया है
Prashant Kumar

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड (Mark Wood) ने आईपीएल (IPL) 2022 ऑक्शन में भाग लेने की पुष्टि कर दी है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि आईपीएल लीग में खेलने से पहले वह कुछ तथ्यों पर विचार करेंगे। दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने बायो-बबल्स में रहने और अपने परिवार से दूर समय बिताने पर चिंता व्यक्त की।

हालांकि इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने संकेत दिया है कि वह खिलाड़ियों को आईपीएल में भाग लेने से रोकने की योजना बना रहा है, लेकिन कई अंग्रेजी खिलाड़ियों के भाग लेने की संभावना है। आईपीएल 2022 की नीलामी 12 और 13 फरवरी को बेंगलुरु में होगी, जिसमें 100 से अधिक क्रिकेटर शामिल होंगे।

वुड ने स्वीकार किया कि उन्होंने ऑक्शन के लिए नाम भेजा है और उनका मानना है कि इससे उन्हें ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आगामी टी20 वर्ल्ड कप के लिए मदद मिलेगी। हालांकि, 32 वर्षीय ने यह भी कहा कि बायो-बबल चुनौतियों और उनकी पारिवारिक स्थिति का आकलन करने के बाद ही खेलने का फैसला लेंगे।

डेली मिरर के हवाले से वुड ने कहा,

मौजूदा समय में मैं ऑक्शन का हिस्सा हूं। लेकिन उस समय के बारे में सोचना जरूरी है। जिस समय मैं इसमें रहूंगा। अगर मैं वर्ल्ड कप के लिए आगे देखता हूं और मैं आईपीएल में दबाव वाली स्थितियों से काफी कुछ सीख सकता हूं और साल के अंत के लिए बेहतर हो सकता हूं, यह अच्छा होगा। यह सिर्फ घर से दूर रहने और बबल के बारे में हैं। मैंने ऑस्ट्रेलिया का दौरा अपने बेटे के बिना किया है जो काफी कठिन रहा है विशेष रूप से क्रिसमस के आसपास। इसलिए मुझे देखना होगा कि परिवार की स्थिति कैसी है।

मार्क वुड आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा रह चुके हैं। इस दौरान 2018 के सीजन में उन्हें केवल 1 मैच ही मैच खेलने का मौका मिला था।

इंग्लैंड हमेशा ही मेरी नंबर 1 प्राथमिकता रहेगा - मार्क वुड

वुड ने कहा कि आईपीएल में भले ही शानदार डील मिलती है लेकिन इंग्लैंड के लिए तीनों ही प्रारूप खेलना उनकी प्राथमिकता होगी।

दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने 2021 में सेमीफाइनल से इंग्लैंड के टी20 वर्ल्ड कप से बाहर होने का जिक्र किया और इस साल आगामी संस्करण में अपने देश की मदद करना चाहते हैं।

उन्होंने आगे कहा,

आईपीएल टीमों का कोई अनादर नहीं है, लेकिन इंग्लैंड हमेशा ही नंबर 1 प्राथमिकता रहेगा क्योंकि मैं हमेशा होई अपने देश के लिए खेलना चाहता था। मैं तीनों प्रारूपों में खेलना चाहता हूं और यह मेरे दिमाग में सबसे आगे है। साल के अंत में वर्ल्ड है और उस पर मेरी नजर है। इस सर्दी में बहुत दुख हुआ जब हम सेमीफाइनल में बाहर हो गए और वनडे समूह के रूप में यह महसूस होता है कि यह एक विरासत को पीछे छोड़ने के लिए कड़ी मेहनत करने का समय है।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...