ENGvIND: तीसरे वनडे में शतक लगाने के बाद बल्ला नीचे गिराने पर जो रूट ने जताया अफसोस

इंग्लैंड के टेस्ट टीम के कप्तान जो रुट ने भारत के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में शतक लगाने के बाद बल्ला नीचे गिराने की घटना पर अफसोस जताया है। उन्होंने कहा कि ऐसा करने के बाद उन्हें तुरंत पछतावा हुआ। जो रूट ने अपने इस सेलिब्रेशन पर कहा कि अगर आप सोचते हैं कि आप इस तरह से जश्न मनाएंगे, तो आपको मैदान से बाहर भेज दिया जाएगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। यह मेरे द्वारा क्रिकेट के मैदान पर की गई सबसे निराशाजनक चीज है।रूट ने कहा कि उन्हें तुरंत इस बात का अफसोस हुआ था। उन्होंने कहा कि यह कार के टकराने जैसा था। ऐसा करने के बाद मुझे तुरंत पछतावा हुआ। गौरतलब है जो रूट ने भारतीय टीम के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में शतक लगाने के बाद अपना बल्ला नीचे गिरा दिया था। उन्होंने चौका लगाकर अपनी टीम को जीत भी दिलाई थी और अपना शतक भी पूरा किया था। उनके बल्ला नीचे गिराने को लेकर काफी प्रतिक्रियाएं देखने को मिली। हालांकि अब उन्होंने इस पर अपनी सफाई दी है। रूट का इस सीरीज में ये लगातार दूसरा शतक था, इससे पहले दूसरे वनडे मैच में भी उन्होंने शानदार शतक लगाया था। जो रूट ने तीन मैचों की इस सीरीज में सबसे ज्यादा 216 रन बनाये और उनके इस शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन ऑफ द सीरीज भी चुना गया था। गौरतलब है हेंडिग्ले में खेले गए तीसरे वनडे मैच में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 256/8 का स्कोर बनाया था , जिसके जवाब में इंग्लैंड ने जो रूट के बेहतरीन शतक और कप्तान इयोन मॉर्गन के साथ उनकी शानदार साझेदारी की बदौलत 45वें ओवर में ही सिर्फ दो विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। दोनों टीमों के बीच अब 1 अगस्त से 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जाएगी। इससे 3 मैचों की टी20 सीरीज 2-1 से भारतीय टीम ने जीती थी।

App download animated image Get the free App now