मोईन अली ने जो रूट के बयान को लेकर दी प्रतिक्रिया

मोईन अली (Moeen Ali) भारत दौरे की इंग्लैंड टेस्ट टीम का हिस्सा थे, दूसरे टेस्ट के बाद वापस घर लौट आए क्योंकि उन्हें शेष श्रृंखला के लिए टीम से बाहर कर दिया गया था। इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट ने तब एक टिप्पणी की थी कि मोईन अली ने "घर जाने के लिए चुना है" जिसके लिए उन्होंने माफी मांगी थी कि यह टीम प्रबंधन द्वारा किया गया निर्णय था न कि खुद ऑलराउंडर का यह निर्णय था। रूट की टिप्पणी को लेकर पूरे एक हफ्ते तक हंगामे के बाद मोईन अली ने इस घटना के बारे में बोलते हुए अपने टेस्ट कप्तान का बचाव किया।

स्काई स्पोर्ट्स से मोईन अली ने कहा "मैं उन्हें अच्छी तरह से जानता हूँ और ईमानदारी की गलती थी। यह एक सीधा हल था लेकिन मुझे लगता है कि कुछ लोग इससे बहुत बहुत बड़ा मुद्दा बना सकते हैं।"

पिछले बुधवार को इंग्लैंड के मुख्य कोच क्रिस सिल्वरवुड ने स्पष्ट किया था कि चेन्नई में भारत खिलाफ दूसरे टेस्ट के बाद के बाद मोईन का टीम छोड़कर जाना रोटेशन प्रणाली के तहत था, यह खिलाड़ी का एकतरफा निर्णय नहीं था। जो रूट ने अपनी टिप्पणी के बारे में माफ़ी माँगी थी, जिसमें उन्होंने कहा था मोईन ने खुद जाने का निर्णय लिया है।

चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में मोईन अली का प्रदर्शन काफी बेहतरीन रहा था। उन्होंने दोनों पारियों में 4-4 विकेट चटकाए। मोईन अली ने दूसरी पारी में कुछ आकर्षक शॉट भी जड़े थे। इसके बाद मोईन अली को अगले दो टेस्ट मैचों के लिए टीम से बाहर कर दिया। इसके बाद सवाल खड़े हुए थे कि मोईन अली को टीम से बाहर क्यों किया गया।

इंग्लैंड की टीम को दूसरे टेस्ट में बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा था। भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा मुकाबला अहमदाबाद में पिंक बॉल टेस्ट के रूप में खेला जा रहा है।

Quick Links