टेस्ट क्रिकेट को बचाने के लिए मोहम्मद हफीज ने दिया चौंकाने वाला सुझाव, कहा टी20 की तरह...

Pakistan v Australia - ICC Men
Pakistan v Australia - ICC Men's T20 World Cup Semi-Final 2021

पाकिस्तान टीम के पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी और वर्तमान में टीम के डायरेक्टर मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) ने टेस्ट क्रिकेट को बचाने के लिए चौंकाने वाली प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि आईसीसी को ये नियम लागू कर देना चाहिए कि सभी देशों के खिलाड़ियों के लिए टेस्ट में एक ही तरह की मैच फीस होगी। हफीज के मुताबिक अगर सभी देशों के प्लेयर्स को एक जैसी मैच फीस मिलेगी तो फिर इससे खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए उत्साहित होंगे।

दरअसल पिछले दिनों से काफी चर्चा चल रही है कि टेस्ट क्रिकेट को किस तरह से बचाकर रखा जाए और इसे दिलचस्प बनाया जाए। न्यूजीलैंड टूर के लिए साउथ अफ्रीका ने जबसे अपनी बी टीम भेजने का ऐलान किया है, तबसे इसको लेकर चर्चा तेज हो गई है।

टेस्ट क्रिकेट में हो एक स्टैंडर्ड मैच फीस - मोहम्मद हफीज

मोहम्मद हफीज के मुताबिक टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ियों को आर्थिक रूप से मजबूत करना पड़ेगा। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्ट मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा,

टेस्ट क्रिकेट को बचाने के लिए आईसीसी को मेरा एक सुझाव है। जैसे आईसीसी पूरी दुनिया में टी20 लीग्स या गेम को प्रमोट करने के लिए टी20 एनओसी देते हैं, उसी तरह से टेस्ट क्रिकेट को प्राथमिकता देने के लिए उनको ये जरूर सोचना चाहिए कि एक स्टैंडर्ड मैच फीस सभी बोर्ड्स के लिए वो लेकर आएं। ताकि हर एक खिलाड़ी फिर चाहे वो ऑस्ट्रेलिया का हो या फिर किसी और देश का हो, उसे एक ही तरह की मैच फीस मिले। कई सारे देशों के पास अच्छी सुविधाएं हैं और वो अपने खिलाड़ियों का काफी ख्याल रखते हैं। लेकिन कई सारे देश ऐसे भी हैं जिनके पास इतने संसाधन या पैसे नहीं हैं और इसी वजह से उनके खिलाड़ी टी20 लीग्स में ज्यादा खेलते हैं। इसी वजह से टेस्ट क्रिकेट में एक स्टैंडर्ड मैच फीस होनी चाहिए।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता