Create
Notifications
Advertisement

On This Day - लसिथ मलिंगा ने अंतिम गेंद पर शार्दुल ठाकुर को आउट कर मुंबई इंडियंस को चौथी बार आईपीएल का ख़िताब दिलाया था

  • आईपीएल के पिछले सीजन में मुंबई इंडियंस ने अंतिम गेंद पर ख़िताब जीता था
  • मुंबई इंडियंस की टीम को लसिथ मलिंगा ने धाकड़ गेंदबाजी कर चैम्पियन बनाया था
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
फ़ीचर
Modified 12 May 2020, 16:01 IST

  अंतिम ओवर में मिली मुंबई को जीत
अंतिम ओवर में मिली मुंबई को जीत

आईपीएल में आज ही के दिन यानि 12 मई 2019 को मुंबई इंडियंस की टीम चौथी बार ख़िताब जीतने में कामयाब हुई थी। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम को रोमांचक मैच में एक रन से हार का सामना करना पड़ा था। मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए बीस ओवर में 8 विकेट पर 149 रन बनाए थे। जवाब में खेलते हुए चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम बीस ओवर में 7 विकेट पर 148 रन ही बना पाई थी। मुंबई के लिए लसिथ मलिंगा का अंतिम ओवर काफी ख़ास रहा था, उन्होंने धाकड़ गेंदबाजी से मुंबई को खिताब दिलाया था। जसप्रीत बुमराह इस मैच के मैन ऑफ़ द मैच रहे थे।

हैदरबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। क्विंटन डी कॉक और रोहित शर्मा ने टीम को शानदार शुरुआत देते हुए पहले विकेट के लिए 45 रन जोड़े। इस दौरान रोहित 15 रन बनाकर आउट हो गए। डी कॉक के 29 रन के निजी स्कोर पर आउट होने के बाद मुंबई के विकेट गिरने लगे लेकिन इस दौरान किरोन पोलार्ड एक छोर पर खड़े हो गए। उन्होंने 25 गेंद में 3 चौके और 3 छक्कों की मदद से नाबाद 41 रन बनाए और टीम का कुल स्कोर 8 विकेट पर 149 रन तक पहुँचाया। दीपक चाहर ने तीन, शार्दुल ठाकुर और इमरान ताहिर ने चेन्नई के लिए 2-2 विकेट चटकाए।

यह भी पढ़ें: 3 बल्लेबाज जिन्होंने डेब्यू टेस्ट और अंतिम टेस्ट में शतक जड़ा

मुंबई इंडियंस ने वॉटसन को आउट कर आईपीएल फाइनल का पासा पलटा

लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई के लिए फाफ डू प्लेसी ने 13 गेंद में ताबड़तोड़ 26 रन बनाए। उनके आउट होने के बाद शेन वॉटसन ने धुनाई शुरू कर दी लेकिन दूसरे छोर से विकेट गिरने लगे। वॉटसन क्रीज पर टिके हुए थे और मुंबई इंडियंस की हार निश्चित नजर आ रही थी। वॉटसन के आउट होने पर मैच बदल गया। अंतिम ओवर में वॉटसन 80 रन पर क्रुणाल पांड्या के थ्रो पर आउट हुए और यहाँ से मैच का पासा पलट गया। इस समय कुल स्कोर 146 रन था और चेन्नई को जीतने के लिए दो गेंद पर चार रन चाहिए थे। अंतिम ओवर की पांचवीं गेंद पैड लाइन पर फुल टॉस थी लेकिन बल्लेबाज शार्दुल ठाकुर इसे बाउंड्री से बाहर भेजने में नाकाम रहे। इस गेंद पर दो रन मिले। अंतिम गेंद पर चेन्नई को जीतने के लिए दो रन चाहिए थे। मलिंगा ने अंतिम गेंद धीमी गति से पैड पर फेंकी और यह बल्लेबाज के पैर से टकराई, अपील होने पर ठाकुर को आउट करार दिया गया और मुंबई इंडियंस ने इस ऐतिहासिक जीत के साथ चौथी बार ख़िताब जीत लिया। बुमराह ने चार ओवर में 14 रन देकर 2 विकेट चटकाए थे और मैन ऑफ़ डी मैच बने। एक हारा हुआ मैच मुंबई ने जीत लिया था।

Published 12 May 2020, 16:01 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit