Create
Notifications

BCB ने दिवंगत क्रिकेटर को याद करने में दिखाई बेअक्‍ली, रविचंद्रन अश्विन भी हो गए हैरान

मंजरुल इस्‍लाम राणा
मंजरुल इस्‍लाम राणा
Vivek Goel
FEATURED WRITER

बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड (BCB) ने 4 मई को अपने दिवंगत क्रिकेटर मंजरुल इस्‍लाम राणा को उनकी 37वीं जयंती पर याद किया। 2003 में मंजरुल राणा इस्‍लाम ने महज 19 साल की उम्र में बांग्‍लादेश के लिए डेब्‍यू किया और सुर्खियां बटोरी जब अपने तीसरी गेंद पर इंग्लिश कप्‍तान माइकल वॉन को आउट किया। बांग्‍लादेश क्रिकेट इतिहास में यह पहला मौका था जब किसी क्रिकेटर ने अपने पहले अंतरराष्‍ट्रीय ओवर में विकेट चटकाया था।

अगले साल ऑलराउंडर मंजरुल इस्‍लाम राणा को जिंबाब्‍वे के खिलाफ हरारे स्‍पोर्ट्स क्‍लब में टेस्‍ट डेब्‍यू का मौका दिया गया। हालांकि, भाग्‍य ने मंजरुल इस्‍लाम राणा के लिए कुछ और ही कहानी लिख रखी थी। मार्च 2007 में मंजरुल इस्‍लाम राणा का 22 साल और 316 दिन की उम्र में सड़क दुर्घटना में निधन हो गया।

मंजरुल इस्‍लाम राणा को याद करते हुए बीसीबी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक पोस्‍ट किया। बीसीबी ने ट्वीट किया, 'मंजूरल इस्लाम राणा को जन्मदिन की शुभकामनाएं, सबसे कम उम्र के टेस्ट क्रिकेटर 22 वर्ष और 316 दिन की आयु में मृत्यु।' इस बीच ट्विटर यूजर्स को बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड का यह पोस्‍ट खराब लगा और उन्‍होंने इसे डिलीट करने की मांग की क्‍योंकि यह पोस्‍ट सही नहीं लग रहा था।

भारतीय क्रिकेटर रविचंद्रन अश्विन ने भी इस पोस्‍ट पर हैरानी जताई और आश्‍चर्यचकित स्‍माइली से अपने भाव जाहिर किए। बीसीबी ने भी अपनी गलती सुधारी और इसे डिलीट करने के बाद नया ट्वीट किया।

मंजरुल
मंजरुल

मंजरुल इस्‍लाम राणा की मृत्‍यु से शोक में डूब गई थी टीम

बांग्‍लादेश की टीम वेस्‍टइंडीज सरजमीं पर विश्‍व कप की तैयारियों में जुटी थी, जब राणा का सड़क दुर्घटना में देहांत हो गया था। तब बांग्‍लादेश के कप्‍तान हबीबुल बशर परेशान हो गए थे और इस घटना को हैरानीभरा करार दिया था। बशर के हवाले से कहा गया था, 'हम सभी के लिए यह हैरानीभरी खबर है। वह हमारा दोस्‍त और टीम साथी था। हमारी टीम के लड़के उदास हैं।'

यह पहला विश्‍व कप था जब बांग्‍लादेश ने पहले राउंड में बरमूडा और भारत को मात देकर पहली बार दूसरे राउंड में प्रवेश किया था। जहां तक मंजरुल इस्‍लाम राणा की बात है तो रिपोर्ट्स के मुताबिक वह मोटरबाइक पर अपना संतुलन खो बैठे थे और बस से टक्‍कर हो गई थी, जिसके बाद वह अपनी जिंदगी गंवा बैठे।

इससे एक दिन पहले मंजरुल इस्‍लाम राणा ने फतुल्‍लाह में मैच खेला था और चार विकेट चटकाए थे। स्‍थानीय फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेटर सज्‍जादुल हसन ने भी अस्‍पताल जाने के रास्‍ते में दम तोड़ दिया था। मंजरुल इस्‍लाम राणा ने 25 वनडे में 588 रन बनाए थे और 28 विकेट चटकाए थे। उनका सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर 69 रन था।

Edited by Vivek Goel
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now