'मैं ऋषभ पन्त हूँ', बस ड्राइवर ने एक्सीडेंट के बाद की दर्दनाक कहानी बताई

पंत की कार बैरिकेड तोड़कर करीब 200 मीटर तक फिसलती चली गई थी
पंत की कार बैरिकेड तोड़कर करीब 200 मीटर तक फिसलती चली गई थी

टीम इंडिया (Team India) के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पन्त (Rishabh Pant) आज सुबह एक दुर्घटना का शिकार हो गए। दिल्ली से वह रुड़की की तरफ अपने परिवार से मिलने जा रहे थे लेकिन बीच रास्ते में उनकी कार का एक्सीडेंट हो गया। हालांकि इस भयानक हादसे के बाद ऋषभ पन्त की हालत स्थिर बताई गई है। लेकिन सोशल मीडिया पर उनके एक्सीडेंट की सीसीटीवी फूटेज और हादसे के बाद की वीडियो लगातार वायरल हो रही हैं। ऋषभ पन्त के एक्सीडेंट के बाद की कहानी एक बस ड्राइवर ने बताई है, जो उस समय वहां मौजूद थे। उन्होंने बताया कि किस प्रकार से ऋषभ पन्त की जान बची थी।

इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए बस ड्राइवर सुशील ने हादसे के दौरान की कहानी बताते हुए कहा कि, 'स्टार इंडिया क्रिकेटर ऋषभ पन्त दुर्घटना के बाद बुरी तरह से घायल और लंगड़ा रहे थे। अपनी पहचान की पुष्टि करते हुए उन्होंने कहा कि, 'मैं ऋषभ पंत हूँ।' ऋषभ पंत की कार में आग लगने के बाद सुशील गाड़ी के पास पहुंचे और उन्हें बचाने के लिए शीशा तोड़ दिया था। उन्होंने आगे बताया कि, 'मैं हरिद्वार की तरफ से और ऋषभ दिल्ली की तरफ से आ रहे थे। जब उन्होंने पन्त की कार को डिवाइडर से टकराते देखा और मैंने तुरंत मदद करने के लिए ब्रेक लगाये।' बताया जा रहा है कि पंत की कार बैरिकेड तोड़कर करीब 200 मीटर तक फिसलती चली गई थी।

बीसीसीआई ने मीडिया स्टेटमेंट जारी करते हुए दी सम्पूर्ण जानकारी

ऋषभ पन्त को इस हादसे में कई जगह चोट लगी, जिसको लेकर बीसीसीआई ने अपडेट दी और बताया कि, 'ऋषभ के माथे पर दो कट लगे हैं, उनके दाहिने घुटने में लिगामेंट फट गया है और उनकी दाहिनी कलाई, टखने, पैर के अंगूठे में भी चोट लगी है। साथ ही उनकी पीठ पर घर्षण की चोट भी लगी है। ऋषभ की हालत स्थिर बनी हुई है, और उन्हें अब मैक्स अस्पताल, देहरादून में स्थानांतरित कर दिया गया है, जहां उनकी चोट कितनी गंभीर है उसका पता लगाने के लिए एमआरआई स्कैन किया जाएगा।'

Quick Links

Edited by Rahul VBS
App download animated image Get the free App now