मैच फिक्सिंग के आरोपों से घिरे पूर्व श्रीलंकाई क्रिकेटर की मुश्किलें बढ़ी, कोर्ट ने लगाया बैन

Photo Courtesy : Associated Press
Photo Courtesy : Associated Press

मैच फिक्सिंग के आरोपों से घिरे श्रीलंका (Sri Lanka Cricket Team) के पूर्व क्रिकेटर सचित्र सेनानायके (Sachithra Senanayake) की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। कोलंबो की स्‍थानीय कोर्ट ने सोमवार को सचित्र सेनानायके पर विदेशी यात्रा का प्रतिबंध लगा दिया है।

38 साल के सेनानायके ने एक टेस्‍ट, 49 वनडे और 24 टी20 इंटरनेशनल मैचों में श्रीलंका का प्रतिनिधित्‍व किया। उन पर 2020 लंका प्रीमियर लीग के दौरान मैच फिक्‍स करने का आरोप लगा था। सेनानायके पर आरोप है कि उन्‍होंने टेलीफोन पर दो खिलाड़‍ियों को मैच फिक्‍स करने के लिए उकसाया था।

कोलंबो मुख्य मजिस्ट्रेट की अदालत ने आव्रजन एवं उत्प्रवास महानियंत्रक को सेनानायके पर यात्रा प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया जो कि तीन महीने के समय के लिए प्रभावी होगा। कोर्ट का आदेश अटॉर्नी जनरल के विभाग द्वारा प्राप्‍त किया गया। कोर्ट को बताया गया कि खेल मंत्रालय की विशेष जांच इकाई ने अटॉर्नी जनरल के विभाग को पूर्व ऑफ स्पिनर के खिलाफ आपराधिक आरोप तय करने का निर्देश दिया था।

बता दें कि सचित्र सेनानायके दुबई में थे, जब उन्‍होंने टेलीफोन के जरिये लंका प्रीमियर लीग के पहले एडिशन में दो क्रिकेटर्स से मैच फिक्‍स करने के लिए संपर्क किया था। सेनानायके का मामला खेल में भ्रष्‍टाचार का पहला मामला था, जो कि 2019 में खेल से संबंधित अपराध की रोकथाम अधिनियम के तहत श्रीलंका में दंडनीय अपराध की श्रेणी में आया। श्रीलंका खेल संबंधित अपराध और भ्रष्‍टाचार के लिए कानून लाने वाला दक्षिण एशिया कप पहला देश बना।

हालांकि, सेनानायके ने सभी आरोपों को बेबुनियाद करार दिया था। सेनानायके ने कहा कि उन पर गलत आरोप लगाए गए, जिससे उनकी और उनके परिवार की छवि को नुकसान हुआ। क्रिकेटर ने कानूनी एक्‍शन लेने की धमकी दी थी। 2021 में क्रिकेटर ने गिरफ्तारी से सुरक्षा की मांग करते हुए कोलंबो मजिस्ट्रेट के पास अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी जिसे खारिज कर दिया गया था।

Quick Links

Edited by Rahul VBS
App download animated image Get the free App now