इंग्‍लैंड दौरे से बाहर होने पर भारतीय क्रिकेटर ने बयां किया अपना दर्द

वॉशिंगटन सुंदर
वॉशिंगटन सुंदर

हाल ही में इस बात की पुष्टि हुई कि भारत के युवा खिलाड़ी वॉशिंगटन सुंदर इंग्‍लैंड के खिलाफ आगामी सीरीज से बाहर हो गए हैं। डरहम में अभ्‍यास मैच के दौरान सुंदर को उंगली में चोट लगी थी। भारतीय खेमे से खबर आई कि कुल तीन खिलाड़ी भारत लौटेंगे।

वॉशिंगटन सुंदर की उंगली में फ्रेक्‍चर है। तेज गेंदबाज आवेश खान के बाएं हाथ के अंगूठे में फ्रेक्‍चर है। उन्‍हें भी अभ्‍यास मैच में ही चोट लगी थी। शुभमन गिल पैर में चोट के कारण इंग्‍लैंड दौरे से बाहर होकर देश लौटे।

याद दिला दें कि वॉशिंगटन सुंदर और आवेश खान डरहम में भारत के खिलाफ काउंटी सेलेक्‍ट XI के लिए खेल रहे थे। काउंटी टीम के पास पर्याप्‍त खिलाड़ी नहीं थे, तो ये दोनों खिलाड़ी उसकी तरफ से खेले।

पूरा मैच खेलने के बावजूद भी सुंदर दौरे से बाहर हो गए क्‍योंकि दाएं हाथ की उंगली में चोट के कारण वह गेंदबाजी नहीं कर पा रहे थे। वॉशिंगटन सुंदर ने टीम इंडिया से बाहर होने पर अपना दर्द बयां किया।

सुंदर ने अपनी फोटो शेयर करते हुए ट्वीट किया, 'टीम से बाहर होना और वापस जाना मुश्किल है। मेरे ठीक होने के लिए आप सभी प्रार्थना करने वालों को बड़ा धन्‍यवाद।'

बीसीसीआई ने पुष्टि कर दी है कि पृथ्‍वी शॉ और सूर्यकुमार यादव विकल्‍प के रूप में आगामी दौरे के लिए भारतीय टीम से जुड़ेंगे।

वॉशिंगटन सुंदर में मिडिल ऑर्डर बल्‍लेबाज बनने की क्षमता है

वॉशिंगटन सुंदर ने अपने छोटे से करियर में बल्‍ले से काफी प्रभावित किया है। चार टेस्‍ट में युवा ऑलराउंडर ने 66.25 की बेहतरीन औसत से रन बनाए हैं। सुंदर ने इस दौरान तीन अर्धशतक जमाए और एक बार शतक जमाने से चूके।

हाल ही में पाकिस्‍तान के पूर्व कप्‍तान इंजमाम उल हक ने कहा था कि इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज से पहले चोटिल खिलाड़‍ियों के कारण भारतीय टीम परेशान नहीं होगी। इंजमाम ने ध्‍यान दिलाया कि ऑस्‍ट्रेलिया में भी भारत ने इसी तरह की स्थिति का सामना किया था, लेकिन वह तब भी जीती थी क्‍योंकि उसकी बेंच स्‍ट्रेंथ काफी मजबूत है।

पूर्व बल्‍लेबाज ने कहा, 'टीम इंडिया इंग्‍लैंड के कुछ चोटों के मामलों का सामना कर रही है। वॉशिंगटन सुंदर और शुभमन गिल अनफिट हैं। विराट कोहली को पीठ में जकड़न है, लेकिन वह पहले टेस्‍ट में फिट होने की कोशिश कर रहे हैं। अजिंक्‍य रहाणे को भी हैमस्ट्रिंग की समस्‍या है। अच्‍छी बात यह है कि भारतीय टीम के पास शानदार बेंच स्‍ट्रेंथ है तो अगर उनके कुछ प्रमुख खिलाड़ी चोटिल भी होते हैं तो टीम को ज्‍यादा दिक्‍कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment