हरमनप्रीत कौर पर गिरेगी गाज, एशियाई गेम्‍स के दो प्रमुख मुकाबलों से हो सकती हैं बाहर

Women
हरमनप्रीत कौर ने खराब अंपायरिंग पर बेबाकी से अपनी राय रखी, जिसका उन्‍हें खामियाजा भुगतना पड़ सकता है

भारतीय महिला क्रिकेट टीम (India Women Cricket Team) की कप्‍तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) इस समय विवादों से घिरी हुई हैं। बांग्‍लादेश (Bangladesh Women Cricket Team) के खिलाफ मुकाबले में गलत अंपायरिंग पर बेबाकी से अपनी राय रखने वाली हरमनप्रीत कौर को कड़ी सजा भुगतना पड़ सकती है।

हरमनप्रीत कौर ने बांग्‍लादेश के खिलाफ शनिवार को तीसरे व अंतिम वनडे में अंपायर के गलत फैसले पर स्‍टंप्‍स पर जोर से बल्‍ला दे मारा था। इसके बाद पोस्‍ट मैच प्रेजेंटेशन सेरेमनी में उन्‍होंने खराब अंपायरिंग के खिलाफ खुलकर अपने विचार प्रकट किए थे। यही नहीं, कौर ने बांग्‍लादेश से फोटो सेशन के दौरान अंपायर्स को भी आमंत्रित करने को कहा, जिसके कारण मेजबान टीम ने वॉकआउट कर दिया था।

बांग्‍लादेश के खिलाफ इस तरह की हरकत का हरमनप्रीत कौर को खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। इस साल सितंबर में चीन के हांगझू में एशियाई गेम्‍स के पहले दो मैचों से वो बाहर हो सकती हैं। आईसीसी हरमनप्रीत कौर के एक्‍शन के खिलाफ कड़ा एक्‍शन लेने की तैयारी में है।

क्रिकबज की रिपोर्ट के मुताबिक हरमनप्रीत कौर के खाते में चार डीमेरिट अंक जुड़ेंगे, जिसके चलते दो अंतरराष्‍ट्रीय मैचों का निलंबन लगेगा। भारतीय महिला क्रिकेट टीम को अपने अगले मुकाबले सीधे एशियाई गेम्‍स में खेलना है। भारतीय टीम ने आईसीसी रैंकिंग के आधार पर सीधे क्‍वार्टर फाइनल्‍स में प्रवेश पाया था।

अगर हरमनप्रीत कौर के खाते में चार डीमेरिट अंक जुड़े तो वो संभवत: क्‍वार्टर फाइनल और सेमीफाइनल दोनों नॉकआउट मुकाबलों से बाहर हो जाएंगी। अगर भारतीय टीम इन दोनों मुकाबलों को जीतकर फाइनल में पहुंचती हैं तो हरमनप्रीत कौर केवल इस मैच के लिए उपलब्‍ध रहेंगी।

आईसीसी की आचार संहिंता नियम के मुताबिक, 'अगर खिलाड़ी के खाते में 24 महीने के अंदर चार या ज्‍यादा डीमेरिट अंक जुड़ जाते हैं तो उस पर बैन लग सकता है। दो निलंबन अंक का मतलब है कि एक टेस्‍ट या दो वनडे या दो टी20 इंटरनेशनल मैचों से प्रतिबंध। यह भी तय होगा कि पहले किस प्रकार के मैच होने वाले हैं। डीमेरिट अंक लागू होने के बाद 24 महीने तक खिलाड़ी के अनुशासन रिकॉर्ड में दर्ज रहते हैं और इसके बाद वो हट जाते हैं।'

आईसीसी सोमवार तक अपना फैसला सुना सकती थी, लेकिन प्रक्रिया में देरी की संभावना है। मैच अधिकारियों को आईसीसी और घरेलू बोर्ड को रिपोर्ट जमा करनी होगी। एक बार सजा की घोषणा हो तो हरमनप्रीत कौर के पास अपील करने का अधिकार है। ऐसे में आईसीसी मैच रेफरी सुनवाई आयोजित करेगा।

Quick Links

Edited by Rahul VBS
App download animated image Get the free App now