Create

'यह कैसे भाग्यशाली है'- Sikandar Raza ने जीत के बाद कमेंटेटर से नाराजगी जाहिर की 

Ankit
कमेंटेटर से असहमत नजर आए सिकंदर
कमेंटेटर से असहमत नजर आए सिकंदर

बीते शनिवार को ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम (Australia Cricket Team) को तीसरे वनडे में जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम (Zimbabwe Cricket Team) के खिलाफ तीन विकेट से हार झेलनी पड़ी। इस शिकस्त के बावजूद कंगारू टीम ने 2-1 से सीरीज अपने नाम की। इस मैच में मेहमान टीम से रेयान बर्ल (Ryan Burl) ने पांच विकेट लेकर जीत में अहम भूमिका निभाई। जब बर्ल ने ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) का विकेट लिया तब कमेंटेटर ने कहा कि यह उन्हें किस्मत से मिला है। इस पर सिकंदर रजा (Sikandar Raza) ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

ऑस्ट्रेलिया की पारी के दौरान 27वें ओवर की चौथी गेंद पर लेग स्पिनर बर्ल ने ग्लेन मैक्सवेल के पैड्स पर गेंद फेंकी। मैक्सवेल ने इस पर स्वीप किया, लेकिन गेंद बल्ले का किनारा लेते हुए ऊपर खड़ी हो गई, जिसे गेंदबाज पर्ल ने आसानी से कैच करके मैक्सवेल का विकेट हासिल किया। मैक्सवेल 22 गेंदों पर 19 रन पर आउट हो गए।

इस दौरान फॉक्स क्रिकेट पर एक कमेंटेटर ने गेंदबाज बर्ल को भाग्यशाली बता दिया। कमेंटेटर ने अपनी कमेंट्री में कहा, "देखो, क्या यह भाग्यशाली नहीं है। वह (बर्ल) जानते हैं कि वह कितने भाग्यशाली हैं।"

शायद कमेंटेटर इस ओर इशारा कर रहे थे कि बर्ल को मैक्सवेल का विकेट किस्मत के सहारे मिला है। यह बात बर्ल के साथी खिलाड़ी सिकंदर रजा को बिलकुल भी पसंद नहीं आई। जिम्बाब्वे के प्रमुख खिलाड़ी रजा ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'यह कैसे भाग्यशाली है? कृपया कोई यहाँ मेरी मदद करे।'

How’s this a lucky one ?Please someone help me out here . twitter.com/foxcricket/sta…

अगर मैच की बात करें तो लेग ब्रेक गेंदबाज बर्ल की घातक गेंदबाजी के सामने ऑस्ट्रेलिया की टीम 31 ओवर में महज 141 पर ही सिमट गई। ऑस्ट्रेलिया से डेविड वॉर्नर ने सर्वाधिक 94 रन बनाए जबकि जिम्बाब्वे से बर्ल ने तीन ओवर में सिर्फ 10 रन देकर पांच विकेट चटकाए। जवाब में छोटे से लक्ष्य को जिम्बाब्वे ने 39 ओवर में सात विकेट खोकर हासिल कर लिया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment