Create

'मुझे तुरंत पता लग गया कि इस भारतीय तेज गेंदबाज का करियर शानदार अच्‍छा होगा'

भारतीय क्रिकेट टीम
भारतीय क्रिकेट टीम

दक्षिण अफ्रीका के दिग्‍गज तेज गेंदबाज डेल स्‍टेन का मानना है कि मोहम्‍मद सिराज का एटीट्यूड और शैली इंग्‍लैंड में सफल होने के लिए सही है। स्‍टेन का मानना है कि भारतीय तेज गेंदबाज का टेस्‍ट करियर सफल होगा। ईएसपीएनक्रिकइंफो के लिए लिखे अपने कॉलम में डेल स्‍टेन ने भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण का विश्‍लेषण किया।

दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज ने लिखा, 'मेरे ख्‍याल से मोहम्‍मद सिराज खेल में अच्‍छा एटीट्यूड लेकर आए हैं। जब आप इंग्‍लैंड की परिस्थितियों में खेल रहे होते हो तो वो अलग चीज हो जाती है, जो हमें भूलना होती है। यह सिर्फ ऐसा नहीं कि आप गेंद कहां डाल रहे हो, लेकिन साथ ही एटीट्यूड होता है, जो आप लोगों के चेहरे पर लेकर आते हो। उन्‍हें वो शॉट खेलने को मजबूर करते हो, जो वो नहीं खेलना चाहते हैं।'

उन्‍होंने आगे लिखा, 'मेरे ख्‍याल से सिराज ऐसे गेंदबाज हैं, जो ऐसा करा सकते हैं। मैंने कुछ हिस्‍से में उन्‍हें गेंदबाजी करते देखा है जब वह ऑस्‍ट्रेलिया में गेंदबाजी कर रहे थे और मुझे तुरंत लग गया था कि उनका टेस्‍ट करियर अच्‍छा रहने वाला है। तेज गेंदबाज के एटीट्यूड के बारे में भूलना नहीं चाहिए।'

मोहम्‍मद सिराज ने भारत के लिए पांच टेस्‍ट खेले और 28.25 की औसत से 16 विकेट लिए। उन्‍होंने मेलबर्न और ब्रिस्‍बेन में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई थी।

डेल स्‍टेन का मानना है कि भारतीय टीम को विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल में युवा तेज गेंदबाज को मौका देना चाहिए था। मगर वो इस बात से राजी हैं कि उनके चयन पर एक बल्‍लेबाज या गेंदबाज को हटाना पड़ता, जो बेहतर बल्‍लेबाजी कर सकता था।

भारतीय टीम ने डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में इशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह और मोहम्‍मद शमी के साथ मैदान संभाला था, जिसे न्‍यूजीलैंड के हाथों 8 विकेट की शिकस्‍त झेलनी पड़ी थी।

शार्दुल ठाकुर तो टिम साउदी जैसे हैं: स्‍टेन

डेल स्‍टेन ने जोर देकर बताया कि इंग्‍लैंड में सफल होने के लिए भारतीय तेज गेंदबाजों के लिए फिटनेस अहम पहलु होगा। 38 साल के स्‍टेन ने शार्दुल ठाकुर की भी तारीफ की और उनकी स्विंग कराने की क्षमता की तुलना न्‍यूजीलैंड के टिम साउदी से की।

स्‍टेन ने लिखा, 'भारत के पास जो है, उससे मैं खुश हूं। वो सभी गेंदबाज कुछ अलग मिश्रण लेकर आते हैं। मेरी सलाह है कि फिट रहे। पांच टेस्‍ट मैचों में काफी गेंदबाजी की जरूरत होगी। कई विकेट्स आप ले सकेंगे। अगर आप काफी गेंदबाजी करने के लिए अपने तेज गेंदबाजों पर निर्भर हैं तो आपको फिट रहना होगा।'

उन्‍होंने आगे लिखा, 'मुझे शार्दुल ठाकुर पसंद है। वह गेंद को अच्‍छे से स्विंग करा सकते हैं और जब वो सीख लेंगे कि कैसे बल्‍लेबाज के सामने गेंद सीधी रखनी है तब उन्‍हें ज्‍यादा बल्‍लेबाज के बल्‍ले के किनारे मिलेंगे। वह एक और खिलाड़ी हैं, जो टिम साउदी जैसे गेंद को खूबसूरती से स्विंग कराते हैं। मगर उन्‍हें सीखने की जरूरत है कि कैसे बल्‍लेबाज के बल्‍ले का बाहरी किनारा खोजना है।'

स्‍टेन ने साथ ही ध्‍यान दिलाया कि मोहम्‍मद शमी और उमेश यादव में अच्‍छी गति के साथ गेंद को स्विंग कराने की क्षमता है। उन्‍होंने कहा कि दोनों में से जो भी नेट्स पर बेहतर गेंदबाजी करे, उसे टेस्‍ट में शुरूआत करनी चाहिए।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment