IND vs ENG: क्‍या रिटायर्ड हर्ट होने के बाद दोबारा बल्‍लेबाजी करने आएंगे यशस्‍वी जायसवाल? पूर्व कप्‍तान ने दिया ये बयान

India  v England - 3rd Test Match: Day Three
शतक पूरा करने के बाद रिटायर्ड लौट गए यशस्‍वी जायसवाल

भारतीय टीम (India Cricket Team) के पूर्व कप्‍तान अनिल कुंबले (Anil Kumble) को नहीं लगता कि तीसरे दिन रिटायर्ड हर्ट होने वाले शतकवीर यशस्‍वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) दोबारा बल्‍लेबाजी करने आएंगे। याद दिला दें कि यशस्‍वी जायसवाल ने शनिवार को इंग्‍लैंड (England Cricket Team) के खिलाफ तीसरे टेस्‍ट की दूसरी पारी में अपने करियर का तीसरा शतक जमाया और फिर पीठ दर्द की समस्‍या के कारण रिटायर्ड हर्ट हो गए। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने 133 गेंदों में 9 चौके और पांच छक्‍के की मदद से नाबाद 104 रन बनाए।

भारत ने तीसरे दिन स्‍टंप्‍स तक 51 ओवर में दो विकेट खोकर 196 रन बनाए। भारत ने इंग्‍लैंड पर कुल बढ़त 322 रन की बना ली है। कुंबले ने ध्‍यान दिलाया कि यशस्‍वी जायसवाल को वापस बुलाने का फैसला अच्‍छा था क्‍योंकि ओपनर पीठ दर्द समस्‍या से जूझ रहे थे।

अनिल कुंबले ने जियो सिनेमा से बातचीत में कहा, 'मुझे नहीं लगता कि वो दोबारा बल्‍लेबाजी करेगा क्‍योंकि उसने कोशिश की थी। फिजियो ने आकर मैदान पर उपचार किया, लेकिन सही नहीं लगने के बावजूद जायसवाल ने बल्‍लेबाजी की। उन्‍होंने फिर कोशिश की, लेकिन वो ठीक नहीं हुए। अगर वो दर्द झेल पाता तो मुझे भरोसा है कि वो बल्‍लेबाजी जारी रखता। यह बस ऐसा ही है। वो बल्‍लेबाजी नहीं कर पाया तो इसका असका प्रभाव केवल उस पर नहीं पड़ता।'

कुंबले ने आगे कहा, 'आप ऐसी स्थिति नहीं आने देना चाहेंगे, जहां अपने जोड़ीदार को आउट करा दें क्‍योंकि इस तरह की साझेदारी में ऐसा हो जाता है। आपका जोड़ीदार रन नहीं दौड़ पाता तो उसे स्‍ट्राइक रोटेट करने में संघर्ष करना पड़ता है। तो मेरी नजर में यह अच्‍छा कॉल रहा कि यशस्‍वी जायसवाल को टीम प्रबंधन ने वापस बुलाया।'

बता दें कि यशस्‍वी जायसवाल जब ड्रेसिंग रूम की तरफ लौटे तो दर्शकों से लेकर दोनों टीमों के स्‍टाफ ने खड़े होकर तालियां बजाईं और युवा खिलाड़ी की हौसलाअफजाई की। बता दें कि यशस्‍वी-गिल ने शनिवार को दूसरे विकेट के लिए 155 रन की साझेदारी ने भारतीय टीम को ड्राइविंग सीट पर लाकर खड़ा किया। भारत के पास राजकोट टेस्‍ट जीतकर सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाने का शानदार मौका है।

Quick Links

Edited by Rahul