Create

सूर्यकुमार यादव ने बल्लेबाजी के दौरान  किरोन पोलार्ड के साथ हुई अपनी बातचीत का किया खुलासा 

पारी के दौरान शॉट खेलते हुए सूर्यकुमार यादव
पारी के दौरान शॉट खेलते हुए सूर्यकुमार यादव

भारत और वेस्टइंडीज के बीच अहमदाबाद में तीन मैचों की वनडे सीरीज (IND vs WI) का पहला वनडे खेला गया। इस मैच में मेजबान टीम ने शानदार खेल दिखाया और मेहमान टीम को कोई मौका नहीं दिया। भारत ने पहले गेंद के साथ कैरेबियाई टीम को खुलकर नहीं खेलने दिया और उसके बाद बल्लेबाजी में छोटे स्कोर का पीछा करते हुए एक आसान जीत हासिल की। इस मैच में भारत के लिए सूर्यकुमार यादव(Suryakumar Yadav) ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की और उनका बखूबी साथ डेब्यू कर रहे दीपक हूडा (Deepak Hooda) ने भी दिया।

सूर्यकुमार की बल्लेबाजी के दौरान करीबी स्थान पर फील्डिंग कर रहे वेस्टइंडीज के कप्तान किरोन पोलार्ड लगातार इनके साथ कुछ बातचीत कर रहे थे और सभी के मन में उत्सुकता थी कि आखिर पोलार्ड क्या कह रहे हैं। मैच के बाद मुंबई इंडियंस के इस बल्लेबाज ने अपनी आईपीएल टीम के साथ खिलाड़ी की बातचीत का खुलासा किया।

सूर्यकुमार ने पोस्ट मैच कॉन्फ्रेंस में कहा,

उसने मुझे कुछ बातें बताईं (हसंते हुए)। मिड विकेट खुला था, उस तरफ क्यों नहीं मारा। मैंने ऐसा शॉट आईपीएल में खेला था और वह यहाँ भी ऐसी ही उम्मीद कर रहे थे लेकिन मैं नाबाद रहना चाहता था। ओस आने से गेंदबाजों को थोड़ी परेशानी हुई। दोपहर में यह थोड़ा धीमा था, लेकिन ओस के साथ यह बल्लेबाजों के लिए थोड़ा आसान हो गया।
सूर्यकुमार और दीपक ने अच्छी साझेदारी निभाई
सूर्यकुमार और दीपक ने अच्छी साझेदारी निभाई

वेस्टइंडीज के 177 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम की शुरुआत काफी अच्छी रही थी और उनका पहला विकेट 84 के स्कोर पर गिरा और यहाँ से टीम ने निरंतर अंतराल में कुछ विकेट खोये और स्कोर 116/4 हो गया। हालांकि यहाँ से सूर्यकुमार यादव (34*) और डेब्यू मैच खेल रहे हूडा ने (28*) ने पांचवें विकेट के लिए अविजित 62 रन की साझेदारी करते हुए भारत को मैच में जीत दिलाई।

सूर्यकुमार ने हूडा की प्रशंसा करते हुए कहा,

चीजें वास्तव में स्पष्ट थीं, उसने (हूडा) बहुत सारी घरेलू क्रिकेट खेली है, इसलिए वह वास्तव में स्थिति को अच्छी तरह से जानते थे। इसलिए हम कम बातचीत कर रहे थे और छोटे लक्ष्य निर्धारित कर रहे थे (हमारी साझेदारी में)। उनका आत्मविश्वास साफ़ नजर आ रहा था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment