Create
Notifications

गुजरात टाइटंस के खिलाफ रजत पाटीदार की पारी को सराहते हुए पूर्व खिलाड़ी ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

रजत पाटीदार के आक्रामक खेल की वजह से विराट कोहली ने वक़्त लेकर खेला
रजत पाटीदार के आक्रामक खेल की वजह से विराट कोहली ने वक़्त लेकर खेला
Prashant Kumar
visit

गुजरात टाइटंस (GT) के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) को भले ही हार का सामना करना पड़ा हो लेकिन टीम के लिए युवा रजत पाटीदार (Rajat Patidar) ने जबरदस्त बल्लेबाजी की। पाटीदार की आक्रामक पारी को लेकर पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने भी प्रतिक्रिया दी है। उनके मुताबिक युवा खिलाड़ी की आक्रामक बल्लेबाजी की ही वजह से विराट कोहली (Virat Kohli) को समय लेने का मौका मिला।

रजत पाटीदार ने नंबर 3 पर बल्लेबाजी करते हुए 32 गेंदों में 52 रन की पारी खेली और इस दौरान विराट कोहली के साथ दूसरे विकेट के लिए 99 रन जोड़े। इस साझेदारी में पाटीदार ने ही आक्रामकता दिखाई जबकि कोहली संभल कर खेलते हुए नजर आये। उन्होंने 53 गेंदों में 58 रन की पारी खेली।

अपने यूट्यूब चैनल पर आरसीबी के बल्लेबाजी प्रदर्शन की चर्चा करते हुए आकाश चोपड़ा ने रजत पाटीदार की प्रशंसा की। उन्होंने कहा,

फाफ डू प्लेसी शुरुआत में जीरो पर आउट हुए। रजत पाटीदार आए और चमके। अनकैप्ड खिलाड़ी ने आक्रामक बल्लेबाजी की और विराट कोहली धीमा खेलने की अनुमति दी, यही हकीकत है। अगर वह 200 की रफ्तार से नहीं दौड़ते तो कोहली वह नहीं कर पाते जो उन्होंने किया।"आप समझ सकते हैं कि कोहली की गति धीमी क्यों थी लेकिन यह रजत पाटीदार की गलती नहीं थी और आरसीबी को इसका और खामियाजा भुगतना पड़ सकता था, अगर पाटीदार ने इस तरह की बल्लेबाजी न की होती।
youtube-cover

आरसीबी और अधिक रन बना सकती थी - आकाश चोपड़ा

विराट कोहली अर्धशतक बनाकर मोहम्मद शमी का शिकार बने
विराट कोहली अर्धशतक बनाकर मोहम्मद शमी का शिकार बने

आकाश चोपड़ा ने कहा कि विराट कोहली अपनी पारी को एक्सीलेरेट नहीं कर पाए और उनके आउट होने के बाद लगा कि टीम 190 तक नहीं पहुँच पायेगी, यहां तक कि 170 भी मुश्किल लग रहा था।

हालांकि उन्होंने ग्लेन मैक्सवेल और महिपाल लोमरोड़ की तारीफ की जिन्होंने अंत में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और अपनी टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुँचाया। चोपड़ा ने कहा,

ग्लेन मैक्सवेल ने बहुत अच्छा खेला और बाद में महिपाल लोमरोड़ ने जोरदार दहाड़ लगाई। वह राजस्थान के लिए खेलते थे और इस नीलामी में इस फ्रेंचाइजी ने उन्हें चुना था। कुल मिलाकर, आप 170 तक पहुंच गए, जो मुझे लगा कि यह एक अच्छा स्कोर है। लेकिन सच्चाई यह भी है कि 185-190 संभव था अगर आरसीबी ने थोड़ी और आक्रामक बल्लेबाजी की होती।

मैक्सवल ने 18 गेंदों में 33 और लोमरोड़ ने आठ गेंदों में 16 रन बनाकर आरसीबी के स्कोर को 170 तक पहुँचाया। हालांकि यह स्कोर काफी साबित नहीं हुआ और गुजरात ने छह विकेट से जीत दर्ज की।


Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now