Create
Notifications

"श्रेयस अय्यर को लेग स्पिनरों के खिलाफ आवश्यकता से अधिक आक्रामक होने की जरूरत नहीं है" - केकेआर के कप्तान को लेकर पूर्व खिलाड़ी की प्रतिक्रिया 

मौजूदा आईपीएल सीजन में श्रेयस अय्यर बड़े शॉट लगाने के चक्कर में आउट हुए हैं
मौजूदा आईपीएल सीजन में श्रेयस अय्यर बड़े शॉट लगाने के चक्कर में आउट हुए हैं
Prashant Kumar
visit

पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) का मानना है कि कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के कप्तान श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) को बल्लेबाजी करते हुए लेग स्पिनरों के साथ थोड़ा सावधानी से खेलने की जरूरत है। श्रेयस लगातार दो मैचों में लेग स्पिनरों के सामने आउट हुए हैं।

मुंबई इंडियंस के खिलाफ आज होने वाले मुकाबले में श्रेयस अय्यर के सामने विपक्षी लेग स्पिनर मुरुगन अश्विन की चुनौती होगी। ऐसे में एक बार फिर अय्यर पर सब की नजरें होंगी कि वह लेग स्पिन के खिलाफ कैसा खेलते हैं।

अपने यूट्यूब चैनल पर मुकाबले का प्रीव्यू करते हुए आकाश चोपड़ा ने कहा कि श्रेयस अय्यर को लेग स्पिनरों के सामने केवल बड़े शॉट खेलने के बजाय बेहतर योजना बनानी होगी। उन्होंने कहा,

श्रेयस अय्यर को लेग स्पिनरों के खिलाफ अधिक आक्रामक होने से रोकने की जरूरत है। वह लेग स्पिनरों के खिलाफ बहुत बार आउट हो रहा है - पहले (वनिन्दु) हसारंगा, फिर (राहुल) चाहर। वह बड़े शॉट खेलने की कोशिश में आउट हो रहा है।

श्रेयस अय्यर आरसीबी के खिलाफ 13 रन बनाकर वनिंदू हसारंगा के खिलाफ बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में आउट हुए थे। इसके बाद पंजाब किंग्स के खिलाफ राहुल चाहर को स्लॉग स्वीप मारने के प्रयास में 26 रन बनाकर आउट हुए।

youtube-cover

ज्यादा खिलाड़ियों के प्रदर्शन न करने के बावजूद, केकेआर मैच जीत रहा है - आकाश चोपड़ा

What's the speed limit on Mumbai-Pune Expressway? ⚡Asking for our friends 😉@patcummins30 #TimSouthee #KKRHaiTaiyaar #KKRvMI #IPL2022 https://t.co/gIKf3VIfoi

केकेआर ने आईपीएल 2022 में अपने शुरुआती तीन में से दो मुकाबले जीते हैं, जबकि अभी वेंकटेश अय्यर, नितीश राणा जैसे खिलाड़ियों का प्रदर्शन खराब ही रहा है। चोपड़ा के मुताबिक केकेआर मजबूत टीम है और इसी वजह से जीत रही है। उन्होंने कहा,

केकेआर की कहानी थोड़ी अलग है (दूसरी टीम से)। श्रेयस अय्यर, वेंकटेश अय्यर, नितीश राणा ने रन नहीं बनाये हैं। अजिंक्य रहाणे और आंद्रे रसेल ने एक-एक अच्छी पारी खेली है। फिर भी, उन्होंने दो गेम जीते हैं। इतने सारे खिलाड़ियों के प्रदर्शन न करने के बावजूद केकेआर अब भी जीत रहा है। इससे टीम की मजबूती प्रदर्शित होती है।

चोपड़ा ने यह भी कहा कि वेंकटेश अय्यर को स्कोर करना शुरू करना होगा क्योंकि अगर असफलताओं का सिलसिला जारी रहा तो उनकी प्रतिष्ठा दांव पर लगेगी। उन्होंने कहा,

वेंकटेश अय्यर को प्रदर्शनकरना है। वह एक बड़ी प्रतिष्ठा के साथ आया था, लेकिन अभी तक उस पर खरा नहीं उतरा है। केकेआर को बुमराह के खिलाफ सावधान रहने की जरूरत है। अगर वे उसके खिलाफ टिके रहते हैं तो अय्यर रन बना सकते हैं।

वेंकटेश अय्यर ने इस सीजन 3 मैच खेले हैं और इस दौरान उनके बल्ले से महज 29 रन निकले हैं।


Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now