मैन ऑफ द मैच बनने के बाद आवेश खान ने दिया बड़ा बयान

आवेश खान ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ चार विकेट लिए
आवेश खान ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ चार विकेट लिए

4 ओवर में 24 रन देकर चार विकेट। आवेश खान (Avesh Khan) ने इस बेहतरीन स्‍पेल के सहारे लखनऊ सुपरजायंट्स (Lucknow Super Giants) को सोमवार को आईपीएल 2022 (IPL 2022) के 12वें मैच में सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) पर 12 रन की जीत दिलाई। आवेश खान को इस शानदार प्रदर्शन के लिए प्‍लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

मैच के बाद आवेश खान ने कहा, 'प्रयास था कि टीम को विकेट निकालकर दूं क्‍योंकि टीम को मुझसे यही चाहिए। मैं पावरप्‍ले चरण और अंतिम ओवरों में विकेट निकालना चाहता था।'

विलियमसन का विकेट लेने का राज खोलते हुए खान ने कहा, 'मैंने सोचा कि धीमी गति की गेंद डालूं। मैंने ध्‍यान दिया कि पहल पारी में धीमी गति की गेंदें ज्‍यादा बेहतर काम कर रही हैं। तो मैंने सोचा कि पावरप्‍ले में इसका उपयोग करूंगा और सफल भी रहा।'

आवेश खान पारी के 18वें ओवर में हैट्रिक लेने से चूक गए थे। उन्‍होंने ओवर की तीसरी और चौथी गेंद पर क्रमश: निकोलस पूरन व अब्‍दुल समद के महत्‍वपूर्ण विकेट लिए थे।

हैट्रिक पूरी करने की क्‍या योजना थी, इस पर तेज गेंदबाज ने कहा, 'मैं डॉट गेंद निकालना चाहता था, इसलिए मैंने यॉर्कर गेंद डालने का फैसला किया था। मगर विकेट नहीं मिला।'

लखनऊ सुपरजायंट्स के स्‍टाफ के बारे में बात करते हुए आवेश खान ने कहा कि गंभीर, बिकेल और फ्लावर के साथ यहां बढ़‍िया लग रहा है। उन्‍होंने मुझे अपनी ताकत के हिसाब से गेंदबाजी करने को कहा।

विरोधी टीम पर दबाव बनाने का था प्‍लान: केएल राहुल

लखनऊ सुपरजायंट्स के कप्‍तान केएल ने कहा, 'जेसन होल्‍डर के आने से हमारी टीम की गहराई बढ़ गई तो हमारी योजना थी कि विरोधी टीम पर दबाव बनाना है। हम इस तरह के बॉडी लैंग्‍वेज को रखना चाहते हैं। मैदान में जाओ, चौके-छक्‍के लगाओ, लेकिन अच्‍छे शॉट्स खेलो। अगर जल्‍दी विकेट गंवा दिए तो स्थिति का विश्‍लेषण करके देखो कि लक्ष्‍य कितना हो सकता है।'

राहुल ने आगे कहा, 'क्विंटन डी कॉक और ऐविन लुईस क कोशिश वॉशिंगटन सुंदर पर दबाव बनाने की थी, लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। मैंने पिछले 3-4 सीजन में दीपक हूडा के साथ खेला है। वो नेट्स के बाहर नहीं आता। जब आप इतनी अच्‍छी बल्‍लेबाजी कर रहे हो तो नेट्स पर इतना समय बिताने की जरूरत नहीं है। मगर वो नेट्स के बाहर नहीं आता। वो अपने मौके का इंतजार करता है और उसका उपयोग करता है। अब हूडा ऐसा खिलाड़ी बन गया है, जिस पर आप मिडिल ऑर्डर में निर्भर रह सकते हो।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
App download animated image Get the free App now